Indian News

#कोरोना संकट: आजम खान का मोहम्मद अली जौहर विश्वविद्यालय बनेगे क्वारंटीन सेंटर, प्रशासन ने लिा फैसला

रामपुर. कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए उत्तर प्रदेश के रामपुर में मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी को क्वारंटीन सेंटर बनाने का फैसला लिया गया है. समाजवादी पार्टी के नेता और रामपुर सांसद मोहम्मद आजम खान इस यूनिवर्सिटी के संरक्षक हैं. कोरोना से जंग में जिला प्रशासन ने जौहर यूनिवर्सिटी को अधिग्रहीत किया है.

रामपुर के डीएम आंजनेय कुमार सिंह के हवाले से मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी आबादी से काफी दूर है. शहर से तकरीबन 8 किलोमीटर दूर होने की वजह से यहां किसी भी मरीज को क्वारंटीन में रखने में आसानी होगी. साथ ही, आसपास सिर्फ एक गांव है. गांव के चारों ओर चहारदीवारी होने की वजह से किसी तरह की दिक्कत नहीं आएगी.’

रामपुर में कोरोना से मिलते-जुलते लक्षण पाए जाने वाले मरीजों को अब इसी क्वारंटीन सेंटर में रखा जाएगा. यूनिवर्सिटी के अंदर स्थित अस्पताल में कुछ महीने पहले ओपीडी का संचालन होता था. 400 बेड सुविधा वाले इस अस्पताल में सभी चिकित्सकीय सुविधाएं उपलब्ध हैं.

आजम खान पर एक के बाद एक कानूनी शिकंजा कसने के बाद अब उनके ड्रीम प्रॉजेक्ट जौहर यूनिवर्सिटी पर भी खतरा मंडराने लगा है. उनके हाथ से इस यूनिवसिर्टी का संचालन छिन सकता है. प्रदेश सरकार इस यूनिवर्सिटी पर प्रशासक नियुक्त कर सकती है. समाजवादी पार्टी की सरकार में कद्दावर मंत्री रहते आजम खान ने जौहर यूनिवर्सिटी की स्थापना की थी. इसके लिए देश-विदेश से चंदे के साथ सरकारी मदद भी मिली थी. यूनिवर्सिटी का संचालन एक ट्रस्ट करता है.

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस से अब तक पांच लोगों की मौत हो चुकी है. शनिवार को राज्य में 19 नए मामले सामने आए. शनिवार शाम तक प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 452 थी. सबसे ज्यादा 92 मरीज ताजनगरी आगरा में हैं. वहीं रामपुर में अब तक 6 लोगों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है. इनमें से एक का संबंध तबलीगी जमात से है. राज्य में अब तक बस्ती, मेरठ, आगरा, वाराणसी और बुलंदशहर में कोरोना से एक-एक मौत हुई है.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: