Indian News

69000 सहायक शिक्षक भर्ती पर रोक, जानें उन सवालों के बारे में जिन पर उठ रहे “सवाल”

लखनऊ. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने उत्तर प्रदेश के शिक्षा विभाग में चल रही 69000 सहायक शिक्षक भर्ती प्रक्रिया पर रोक लगा दी है. इस भर्ती के दौरान परीक्षा में पूछे गए चार सवालों के जवाब को लेकर विवाद है. अभ्यर्थियों ने हाईकोर्ट में इन्हीं चार सवालों के खिलाफ याचिका दायर की थी.

यह आदेश जस्टिस आलोक माथुर की बेंच ने दर्जनों याचियों की पेटिशन्स पर एक साथ सुनवारी करके पारित किया. कोर्ट ने 1 जून को अपना आदेश सुरक्षित किया था, जिसे आज सुनाया. कोर्ट ने याचियों को विवादित प्रश्नों पर आपत्तियों को एक सप्ताह के भीतर राज्य सरकार के समक्ष प्रस्तुत करने को कहा है. आपत्तियों को सरकार यूजीसी (UGC) को प्रेषित करेगी व यूजीसी आपत्तियों का निस्तारण करेगी. अगली सुनवाई 12 जुलाई को होगी.

सवाल जिनपर उठ रहे “सवाल”

सवाल नंबर-1: भारत में गरीबी का आंकलन किस आधार पर किया जाता है?

क्या है विवाद- उत्तर में बताया गया है परिवार का उपभोग व्यय जबकि सही उत्तर प्रति व्यक्ति व्यय है.

 

सवाल नंबर-2: संविधान सभा के पहले अध्यक्ष कौन थे?

क्या है विवाद- उत्तर सच्चिदानंद सिन्हा दिया है, जबकि विकल्प संख्या 2 में डॉ राजेंद्र प्रसाद भी दिया है और दोनों ही सही हैं, क्योंकि सच्चिदानंद अस्‍थाई अध्यक्ष बने थे और स्‍थाई अध्यक्ष डॉ राजेंद्र प्रसाद थे.

 

सवाल नबंर-3: एक प्रश्न में एक लेखक की कही हुई बात को कोट करके ब्रैकेट लिखा है और पूछा है कि किस लेखक की कही गई बात है?

क्या है विवाद- इसके बाद उत्तर ने विकल्प संख्या 3 को सही माना है, जिसमें वेलफेयर ग्रह्यय लिखा है. लेकिन, जब उनकी परिभाषा देखी गई तो पुस्तक में कुछ और ही है जो कोट किए गए लाइन से पूरी तरह मेल नहीं खाती.

 

सवाल नंबर-4: केंद्रीय ग्लास और सेरिमिक अनुसंधान संस्थान कहां है.

क्या है विवाद- इसका सही उत्तर कोलकाता है जो किसी विकल्प में है ही नहीं इसलिए यह प्रश्न पूछने का ढंग गलत है इसलिए इस पर सबको कमान अंक दें.

 

इस सवाल पर तो मंत्री और अधिकारी में ही मतभेद

प्रश्नपत्र में नाथ पंथ के प्रवर्तक को लेकर मंत्री सतीश द्विवेदी व बेसिक शिक्षा के अधिकारियों में रार सामने आई. अधिकारियों के अनुसार उत्तर मत्स्येंद्रनाथ हैं, जबकि मंत्री ने सही उत्तर गोरखनाथ बताया. मंत्री सतीश द्विवेदी ने आग-बबूला होकर विभाग के वरिष्ठ आईएएस अधिकारी को फटकार लगाते हुए कहा कि 8 मार्च 2019 को TGT परीक्षा की B-सीरीज के 88 प्रश्न में सही उत्तर गोरखनाथ बताया है, उसमें तो मत्स्येंद्रनाथ विकल्प ही नहीं है. अपने बेसिक शिक्षा विभाग की कक्षा-6 की पाठ-6 के महान व्यक्तित्व शीर्षक को पढ़ लीजिए, उसमें भी गोरक्षनाथ लिखा है.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: