Student Union/Alumni

आईआईटी दिल्ली के पुरातन छात्रों की संस्था नींव की ओर से आयोजित वेबिनार

नई दिल्ली।

नींव सामाजिक संस्था, मेरठ की ओर से असम के RKB कॉलेज वा MAZBATH कॉलेज के साथ एक नेशनल वेबिनार का आयोजन किया गया। इस वेबिनार का विषय कोविड-19 के बाद शिक्षा के क्षेत्र में क्या नयी अवसर पैदा हुए है, यह रखा गया. इस वेबिनार पर दुनिया भर से 1600 से ज्यादा प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया व इसका लाइव प्रसारण यूट्यूब पर भी किया गया।
वेबिनार के मुख्य वक्ता व मुख्य अतिथि नीव संस्था के समन्वयक डॉ उपदेश वर्मा जी थे। कार्यक्रम का संचालन वेबिनार के सचिव इनकू नाथ RKB कालेज असम व MAZBATH कॉलेज असम ने किया। प्राचार्य डॉ ताजीम अली व प्राचार्य डाॅ प्रदीप शर्मा के द्वारा कोविड-19 के द्वारा हुए नुकसान के बारे में बताया व नींव के राष्ट्रीय समन्वयक डाॅ उपदेश वर्मा का स्वागत किया। मुख्य वक्ता वा अतिथि डाॅ उपदेश वर्मा ने बताया कि कोविड-19 का शिक्षा व सामाज पर क्या बुरा प्रभाव पड़ा है, संसार के लगभग 150 करोड़ छात्र-छात्राएं स्कूल बंद होने के कारण शिक्षा से वंचित हो गए हैं, प्राथमिक विद्यालय में मिलने वाला भोजन भी नहीं मिल रहा, जिससे कि गरीब परिवारों पर और ज्यादा बोझ आ गया है। साथ ही उन्होंने बताया कि उक्त कोविड-19 के कारण बहुत से नए अवसर भी हमें मिले है जैसे की पूरे विश्व में भारत की संस्कृति नमस्ते का प्रचार हुआ, लोग योग व आयुर्वेद के द्वारा घर बैठ कर आपनी इम्युनिटी बढ़ाने का कार्य कर रहे है व महामारी से लड़ने की शक्ति पैदा कर रहे हैं। महाभारत, रामायण, चंद्र गुप्त मौर्य इत्यादि टीवी सीरिअल का दुबारा प्रसारण होने से बच्चों को आपनी संस्कृति के बारे में इतिहास के बारे में जानकारी मिल रही है। भारत आत्मनिर्भर बन रहा हैं, भारत में शिक्षा और उद्योग मिलकर नयी चीजे जैसे पीपीई कीट, सैनेटाइजर, वेनटीलेटर, uv light sanitisation मशीन, कवच मास्क, इत्यादि का भारत में ही निर्माण किया जा रहा है जो कि कोविड-19 से पहले सम्भव ही नहीं था।

नींव संस्था के संयोजक व मान्यवर कांशीराम राजकीय महाविद्यालय गाजियाबाद के भौतिकी के सहायक आचार्य एवं आई आई टी दिल्ली के एलूमीनाई एसोसिएशन के सचिव डॉ उपदेश वर्मा व उनकी नींव टीम का सभी ने धन्यवाद किया। आयोजन में नींव के संस्थापक एडवोकेट श्री हरिदत्त वर्मा, और सदस्यों में डॉ बीर पाल सिंह, श्री राजन वार्ष्णेय, डॉ अनिल मलिक(कोषाध्यक्ष), गीतांजलि कौशिक आदि ने भी अपने विचार रखे। कोविड-19 महामारी में नीव संस्था द्वारा किए जा रहे कार्यों को बताया साथ ही नींव के कार्यो पर प्रकाश डाला कि नींव संस्था के द्वारा अभी तक 2000 परिवारों को सहायता प्रदान की गई एवं 600 से अधिक गरीब बच्चों को यह संस्था अभी तक शिक्षित कर चुकी है व उनके एजुकेशन का कार्य लगातार जारी है।
इसके पश्चात वेबीनार के संरक्षक ने वेबीनार के सफल आयोजन के लिए डॉ उपदेश वर्मा तथा सभी का आभार प्रकट किया एवं वेबीनार में शामिल हुए सभी प्रतिभागियों का धन्यवाद किया।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: