Student Union/Alumni

हिजाब केस : बिहार से खाली हाथ लौटी पुलिस

अलीगढ़। अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में पढ़ने वाली एक छात्रा को सोशल मीडिया पर पीतल का हिजाब पहनाने के मामले में आरोपी छात्र की तलाश में बिहार गई पुलिस खाली हाथ लौट आई है। बिहार में बताए गए पते पर आरोपी छात्र नहीं मिला।

पिछले दिनों सोशल मीडिया पर नागरिकता संशोधन कानून का समर्थन करने के कथित आरोप पर एक छात्र ने छात्रा को हिजाब पहनाने की धमकी दे डाली थी। इसके बाद छात्रा ने एसएसपी से इस मामले की शिकायत की थी। जिसमें आरोपी छात्र के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय प्रशासन ने भी इस मामले में 3 सदस्य जांच कमेटी गठित की। साथ ही आरोपी छात्र को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया। आरोपी छात्र ने अनौपचारिक रूप से विश्वविद्यालय को अपनी सफाई भी दी है। मुकदमा दर्ज होने के बाद पुलिस आरोपी छात्र की गिरफ्तारी के लिए उसके घर पर गई। लेकिन छात्र वहां पर नहीं मिला। इस तरह पुलिस अभी तक आरोपी छात्र के मामले में खाली हाथ है।

यह भी पढ़ें – बिना परीक्षा छात्रों को प्रमोट कर राहत दे सरकार : NSUI

हिजाब का मजाक उड़ाने वाली, मुस्लिम समुदाय भी आहत : फहद
हिजाब प्रकरण में अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय छात्र संघ के सचिव रहे फहद ने कहा है कि एएमयू की पहचान उसकी तहजीब और रवायत से है। इनको हम सालों से अनुसरण करते चले आ रहे हैं। जिस पोस्ट पर कमेंट किया गया है वह पोस्ट हिजाब का मजाक उड़ाने वाली है। इससे मुस्लिम समुदाय की धार्मिक भावनाएं भी आहत हुई हैं। अब सवाल यह है कि ऐसा करने वालों पर कार्रवाई क्यों नहीं हो रही है? अगर विश्वविद्यालय के छात्रावास में किसी से कोई दुर्व्यवहार हुआ है तो उसके खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए। इसके अलावा वह लोग जो हिजाब को मुद्दा बनाकर अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय की छवि को धूमिल करने की कोशिश कर रहे हैं उन लोगों के खिलाफ भी सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: