Indian News

राजस्थान के एक विश्वविद्यालय के स्थापना दिवस पर कलराज मिश्र का सम्बोधन, ऑनलाइन शिक्षा के माध्यम से उच्च शिक्षा को दे गति

जयपुर।

कोरोना महामारी के कारण विश्व जगत परेशान है। कई देशों में आर्थिक आपातकाल जैसी स्थिति भी बन गयी है। मूलभूत सुविधाओं का आभाव आसानी से देखा जा सकता है। ऐसे में शिक्षा क्षेत्र का पिछड़ना काफी विचारणीय है। इन्ही मुद्दों पर केंद्रित होकर राजस्थान के राज्यपाल एवं कुलाधिपति ने कहा है कि उच्च शिक्षा को ऑनलाइन करने की रणनीति बनाई जाए। श्री मिश्र ने वर्धमान महावीर खुला विश्वविद्यालय के 34वें स्थापना दिवस समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस समय पूरी दुनिया कोरोना जैसी महामारी से ग्रस्त है। छात्रों को शिक्षा प्रदान करने के लिए हमें बेहतर अवसर तलाशने की आवश्यकता है और इसी कड़ी में ऑनलाइन शिक्षा के माध्यम से उच्च शिक्षा को गति दी जा सकती है।

यहां पढ़े – सितंबर में अंतिम वर्ष की परीक्षा कराएगा इग्नू, यूजीसी की गाइडलाइंस बनेगी आधार

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के चलते मानव जीवन में एक ठहराव सा आ गया है। देश और समाज का हर कोना इससे प्रभावित हुआ है। ऐसी स्थिति में वर्तमान परिदृश्य के अनुरूप उच्च शिक्षा को ऑनलाइन करने की रणनीति बनाई जाए। उन्होंने कहा कि कौशल विकास मानव जीवन की जननी है। विश्वविद्यालय में बने कौशल विकास केन्द्र से युवा जुड़ेंगे तो उनमें आत्म विश्वास पैदा होगा। अनिश्चतता का भाव भी युवा मन से समाप्त होगा। युवा स्वावलम्बी बन सकेगें। कौशल विकास से राष्ट्र आत्मनिर्भर बनेगा। मिश्र ने कहा कि शिक्षा व्यवस्था वर्तमान परिदृश्य में बदलाव के दौर से गुजर रही है। एक शिक्षक की भूमिका में आमूलचूल परिवर्तन करने की आवश्यकता महसूस की जा रही है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: