Indian News

काशी विद्यापीठ में यूजी और पीजी के लास्ट ईयर एग्जाम को परीक्षा समिति ने दी हरी झंडी

वाराणसी। काशी विद्यापीठ के यूजी लास्ट ईयर व पीजी लास्ट सेमेस्टर की परीक्षाएं सितंबर के प्रथम सप्ताह में होगी। परीक्षाएं 20 दिनों के भीतर खत्म कर लेने का लक्ष्य रखा गया है। टाइम टेबल व एग्जाम सेंटर के बनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। वहीं प्रश्नपत्रों के मॉडरेशन का कार्य भी जारी है।

वीसी प्रो० टीएन की अध्यक्षता में शुक्रवार को हुई परीक्षा समिति की बैठक में हेड व डीन के प्रस्ताव को यूजी-पीजी अंतिम खंड की परीक्षाएं पुराने पैटर्न पर कराने की हरी झंडी मिल गई। वहीं यूजीसी की गाइडलाइन व शासन के निर्देश पर स्नातक प्रथम, द्वितीय तथा स्नातकोत्तर प्रथम, द्वितीय व तृतीय सेमेस्टर के छात्रों को बगैर परीक्षा अगली कक्षा में प्रोन्नत करने को प्रस्ताव को भी स्वीकृति मिल गई। स्नातक अंतिम खंड व स्नातकोत्तर अंतिम सेमेस्टर में वाराणसी सहित पांच जिलों में 94360 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल होंगे। इसमें स्नातक के करीब 72000 परीक्षार्थी स्नातक के शामिल है।

यह भी पढ़ें – UPPSC की पीसीएस मुख्य परीक्षा-2019 एक महीने टली, अब 22 सितंबर से होगी परीक्षा

यूजी का रिजल्ट 15 अक्टूबर तक

यूजी लास्ट ईयर का रिजल्ट 15 अक्टूबर व पीजी लास्ट सेमेस्टर का परीक्षा परिणाम 31 अक्टूबर तक जारी करने का लक्ष्य रखा गया है। बैठक में रजिस्ट्रार डा० एसएल मौर्य, परीक्षा नियंत्रक डा० कुलदीप सिंह उपस्थित थे।

बची परीक्षाएं ही होंगी

काशी विद्यापीठ में स्नातक की वार्षिक परीक्षाएं 20 फरवरी से शुरू हुई थी। कोरोना महामारी व लॉकडाउन के चलते 18 मार्च से परीक्षाएं स्थगित कर दी गई। जबकि स्नातक अंतिम वर्ष की परीक्षाएं 25 अप्रैल तक होनी थी। ऐसे में अब 18 मार्च से 25 अप्रैल वाली अवशेष परीक्षाएं ही होनी है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: