IIT/EngineeringIndian News
Trending

90.37 परसेंटाइल पर पहुँची जनरल कैटेगरी की कटऑफ, पिछले साल थी 89.75

जारी रिजल्ट में जनरल कैटेगरी में पिछले साल के मुकाबले बढ़ोतरी हुई हैं

नई दिल्ली।
जनवरी व सितंबर में हुई जेईई मेंस की परीक्षा में कुल 10 लाख 23 हजार स्टूडेट्स शामिल हुए। यह परीक्षा देश के 31 एनआईटी, 23 ट्रिपल आईटी एवं 27 जीएफटीआई की लगभग 30 हजार से अधिक सीटों पर एडमिशन के लिए हुई है। इनमें से 4 लाख 81 हजार स्टूडेंट्स ऐसे हैं, जिन्होंने दोनों परीक्षाएं दी। जेईई मेंस के जारी रिजल्ट में जनरल कैटेगरी में पिछले साल के मुकाबले बढ़ोतरी हुई हैं।

• पिछले साल कटऑफ थी 89.75 परसेंटाइल –
जनरल कैटेगरी की इस वर्ष की कटऑफ 90.37 परसेंटाइल पहुंची है, जबकि पिछले साल की कटऑफ 89.75परसेंटाइल था। जबकि ईडब्ल्यूएस कैटेगरी की कटऑफ 7.97 घटी है। इसका प्रमुख कारण ईडब्ल्यूएस कैटेगरी में 15 हजार 200 स्टूडेंट्स का अधिक क्वालीफाई करना माना जा सकता है। इसके साथ ही ओबीसी कैटेगरी की कटऑफ 1.43 परसेंटाइल कम गई है। ओबीसी वर्ग में 1350 स्टूडेंट्स ज्यादा क्वालीफाई किए हैं। इसी प्रकार एससी की कटऑफ 3.84 एवं एसटी की कटऑफ 5.26परसेंटाइल कम रही है। एससी, एसटी में क्रमशः 750 और 375 स्टूडेंट्स अधिक क्वालीफाई किए हैं।

• यहां पढ़ें – 06 अक्टूबर से आईआईटी-एनआईटी मे दाखिलों के लिए शुरू होगा पंजीकरण

• ऐसा रहा कट ऑफ –
जेईई मेंस सितंबर का परिणाम ऑल इंडिया रैंक के साथ शुक्रवार रात 11 बजे जारी किया गया। इस परिणाम के आधार पर जेईई-एडवांस्ड परीक्षा देने की पात्रता के लिए कटऑफ जारी कर दी गई। जेईई मेंस के आधार पर शीर्ष चुने हुए करीब 2 लाख 50 हजार स्टूडेंट्स जेईई-एडवांस्ड परीक्षा देने के लिए पात्र घोषित हुए हैं। इसमें सामान्य श्रेणी के एक लाख एक हजार 250 स्टूडेंट्स के लिए कटऑफ 90.38, ईडब्ल्यूएस श्रेणी के 25 हजार स्टूडेंट्स के लिए कटऑफ 70.24, ओबीसी एनसीएल श्रेणी के 67500 स्टूडेंट्स के लिए कटऑफ 72.89, एससी श्रेणी के 37500 स्टूडेंट्स के लिए कटऑफ 50.12, एसटी के 18750 स्टूडेंट्स के लिए कटऑफ 39.07 रही है।

• कोर ब्रांच की जानकारी –
जिनकी एआईआर रैंकिंग 5 हजार से कम है, उन्हें एनआईटी त्रिची, वारंगल, सूरतकल, इलाहाबाद, जयपुर की कोर ब्रांच मिलने की संभावना है। जिनकी ऑल इंडिया रैंक 5 से 10 हजार के बीच है, उन्हें टॉप 5 एनआईटी की अन्य ब्रांचों के अलावा कालीकट, सूरत, नागपुर, भोपाल, राउरकेला जैसे एनआईटी में कोर ब्रांच मिलने की संभावना है।

• बताते चलें कि जेईई एडवांस की परीक्षा 27 सितंबर को होनी है। 1 सितंबर से 6 सितंबर के बीच हुई जेईई मेन की परीक्षा का परिणाम बीते शुक्रवार को घोषित हुआ है। इसी के आधार पर अब सफल हुए छात्र जेईई एडवांस की परीक्षा दे पाएंगे।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: