Indian NewsUniversity/Central University

आनलाइन ओपन बुक परीक्षा के मूल्यांकन की प्रक्रिया में तेजी करें डीयू : हाईकोर्ट

नई दिल्ली।

दिल्ली हाईकोर्ट ने दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) को आनलाइन ओपन बुक एक्जामिनेशन (ओबीई) के मूल्यांकन की प्रक्रिया तेज़ करने और जल्द ही उसका परिणाम घोषित करने को कहा है। कोर्ट ने विश्वविद्यालय को निर्देश दिया कि वह अपने सभी संबद्ध कॉलेजों के प्राचार्यों को पत्र जारी करके मूल्यांकन प्रक्रिया और परिणाम घोषित करने में तेजी लाने की जरूरत को रेखांकित करे।

छात्रों को वेबसाइट से रिजल्ट डाउनलोड करने में न हो परेशानी –
बताते चलें कि अदालत ने साथ ही विश्वविद्यालय को यह निर्देश भी दिया कि वह एक परिपत्र जारी करे कि उन स्नातकोत्तर और स्नातक छात्रों द्वारा ‘कम्फर्ट लेटर के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 18 सितंबर है जो विदेशी विश्वविद्यालय में प्रवेश लेने के इच्छुक हैं। उन स्नातकोत्तर छात्रों के परिणाम 28 सितंबर या उससे पहले घोषित किए जाएं जो उच्च अध्ययन के लिए विदेश यात्रा करना चाहते हैं। न्यायमूर्ति हिमा कोहली और न्यायमूर्ति सुब्रमण्यम प्रसाद की पीठ ने कहा कि उन स्नातकोत्तर छात्रों के परिणाम उसी दिन दिल्ली विश्वविद्यालय के पोर्टल पर विश्वविद्यालय के ‘लेटरहेड पर संबंधित प्राधिकारी के डिजिटल हस्ताक्षर के साथ अपलोड किये जाएं जो उच्च शिक्षा के लिए विदेश जाना चाहते हैं। साथ ही उस पर ऐसा कोई शर्त नहीं हो कि परिणाम अंतरिम है। छात्र वेबसाइट से रिजल्ट डाउनलोड भी कर सकते हैं।

यहां पढ़ें – 30 सितंबर तक बढ़ी इग्नू में जुलाई 2020 सत्र में प्रवेश लेने की अंतिम तिथि

स्तावेजों को जमा करने की ‘कट-ऑफ तारीख 17 सितंबर थी –
जो छात्र विदेशी विश्वविद्यालयों में प्रवेश लेने के इच्छुक हैं, उनको लेकर अदालत को विश्वविद्यालय के अधिकारियों द्वारा आश्वासन दिया गया कि स्नातक छात्रों के लिए उनके द्वारा अंतरिम परिणाम के साथ तैयार पत्र को ‘कटआफ तिथि से पहले विदेशी विश्वविद्यालय को सीधे भेज दिया जाएगा। इसलिए यदि किसी विदेशी विश्वविद्यालय द्वारा दस्तावेजों को जमा करने की ‘कट-ऑफ तारीख 17 सितंबर थी, तो दिल्ली विश्वविद्यालय 17 सितंबर तक उन्हें प्राथमिकता के आधार पर पत्र जारी करे।

23 सितंबर को आगे की सुनवायी के लिए किया सूचीबद्ध –
अदालत ने कहा कि स्नातक छात्रों के अंतरिम परिणामों के साथ विदेशी विश्वविद्यालयों को पत्र भेजने के बाद, दिल्ली विश्वविद्यालय संबंधित छात्र को इसके बारे में सूचित करेगा ताकि वे वीजा के लिए आवेदन कर सकें। अदालत ने मामले को 23 सितंबर को आगे की सुनवायी के लिए सूचीबद्ध किया जब विश्वविद्यालय अंतिम वर्ष के स्नातक छात्रों के परिणामों की घोषणा के लिए एक निश्चित तारीख देगा।

विदेश में पढ़ने वाले छात्रों को न होने पाए दिक्कत –
कोरोना वायरस के चलते पहले ही एडमिश मे देरी हो गयी है, ऐसे मे अंतिम वर्ष की परीक्षा लेकर परिणाम घोषित करने बेहद महत्वपूर्ण है, और जो छात्र विदेश मे पढ़ना चाहते है उनके लिए उनके लिए सभी दस्तावेज होना बहुत जरूरी है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: