Indian News
Trending

उच्च शिक्षा से दिनभर की मुख्य खबरें (एडमिशन विशेष)

डीयू मे 26 अक्तूबर से शुरू होगी तीसरी कट ऑफ की ऑनलाइन एडमिशन प्रक्रिया

नई दिल्ली :
दिल्ली विश्वविद्यालय मे 26 अक्तूबर से शैक्षिक सत्र 2020-21 में स्नातक कोर्सो में प्रवेश के लिए तीसरी कट ऑफ के तहत ऑनलाइन एडमिशन प्रक्रिया शुरू होगी। विश्वविद्यालय शनिवार की शाम अपनी तीसरी कट ऑफ जारी कर चुका है। डीयू की तीसरी कट ऑफ या एडमिशन संबंधित अन्य जानकारी के लिए छात्र डीयू की वेबसाइट du.ac.in देख सकते हैं।

पहली कट ऑफ 10 अक्टूबर को हुई थी जारी –
डीयू की दूसरी कट ऑफ से हुए ऑनलाइन एडमिशन में करीब 82 फीसदी सीटें भर चुकी हैं। डीयू की पहली कट ऑफ 10 अक्टूबर को जारी हुई थी। इस लिस्ट से 50 फीसदी तक सीटें भर चुकी थीं। इस कोरोना वायरस महामारी के कारण प्रवेश पक्रिया पूरी तरह से ऑनलाइन है। एडमिशन के लिए छात्रों को कॉलेज आना मना है। ऐसे में वे अपने घर से ही ऑनलाइन एडमिशन प्रक्रिया पूरी कर रहे हैं।

यहां पढ़ें – एमसीयू के सत्रारंभ कार्यक्रम का शड्यूल जारी, 26 से 28 अक्टूबर तक होगा ऑनलाइन आयोजन

विश्वविद्यालय में स्नातक के विभिन्न कोर्सों के लिए 70 हजार सीटें –
ऑनलाइन एडमिशन प्रक्रिया में कॉलेजों को उन अभ्यर्थियों की लिस्ट मिल जाती है जो कॉलेज में चल रहे कोर्स और उस कॉलेज को एडमिशन के लिए चुनाव करते हैं। कॉलेज प्रशासन छात्रों की कट-ऑफ लिस्ट के अनुसार प्रवेश देने की अनुमति दी जाती है। कॉलेज का कोर्स इंचार्ज संबंधित कोर्स में प्रवेश के लिए आवदेक छात्र की न्यूनतम योग्यता की जांच करता है। इसी क्रम में छात्र द्वारा अपलोड किए गए शैक्षिक दस्तावेजों का निरीक्षण भी किया जाता है।

डीयू एडमिशन के लिए आवश्यक दस्तावेज-
10वीं कक्षा की मार्कशीट
12वीं कक्षा की मार्कशीट
एस/एसटी/ओबीसी आदि का जाति प्रमाण पत्र (यदि लागू हो)
ओबीसी नॉन-क्रीमी लेयर सर्टिफिकेट (यिद लागू हो)
ईडब्ल्यूएस कोटा में एडमिशन के लिए सक्षम अधिकारी द्वारा जारी किया गया ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र और आय प्रमाण पत्र।

उदय प्रताप कालेज मे दो नवंबर से शुरू होगी दाखिले के लिए काउंसिलिंग

लखनऊ :
उदय प्रताप स्वायत्तशासी कालेज मे स्नातक पाठ्यकर्मों में प्रवेश के लिए दो नवंबर से काउंसिलिंग शुरू की जा रही है। इसकी सूचना शुक्रवार को कालेज की वेबसाइट पर भी अपलोड कर दी गई है। वहीं, स्नातक व स्नातकोत्तर के विभिन्न पाठ्यक्रमों में दाखिले की मेरिट सूची पहले ही जारी की जा चुकी है। प्राचार्य डा. जीएस राठौर ने बताया कि स्नातक में दाखिले की काउंसिलिंग सुबह दस बजे से दोपहर तीन बजे तक 21 नवंबर तक चलेगी।

निम्न दस्तावेज अनिवार्य –
प्रवेश परीक्षा के संयोजक आलोक कुमार सिंह के मुताबिक काउंसिलिंग के समय अभ्यर्थियों को सभी शैक्षिक प्रमाणपत्रों की मूल कापी, चरित्र प्रणाम पत्र, टीसी, माइग्रेशन, जाति प्रमाण पत्र की मूल व एक-एक छाया प्रति के साथ ही प्रवेश पत्र भी लाना अनिवार्य हैं।

यहां पढ़ें –महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ मे नवंबर से पहले दाखिले का लक्ष्य, काउंसिलिंग की तैयारी शुरू

काउंसिलिंग की तिथि –
02 व 03 नवंबर – मुख्य सूची से बीकाम व बीएससी (कृषि)
04 व 05 नवंबर – प्रतीक्षा सूची से बीकाम व बीएससी (कृषि)
07 व 08 नवंबर – मुख्य सूची से बीएससी (जीव विज्ञान व गणित)
09 व 10 नवंबर – प्रतीक्षा सूची से बीएससी (जीव विज्ञान व गणित)
17 व 18 नवंबर – मुख्य सूची से बीए
19 व 21 नवंबर – प्रतीक्षा सूची से बीए

प्रशासन की अनुमति के बाद स्‍कूल और कालेज खुल गए –
वाराणसी में कोरोना संक्रमण काल के दौरान अनलॉक में प्रशासन की अनुमति के बाद स्‍कूल और कालेज सोमवार से खुल गए। इससे स्‍कूलों में रौनक नजर आई तो प्रबंधन की ओर से संक्रमण से बचाव के लिए व्‍यापक इंतजाम भी नजर आए। शैक्षणिक अधिकारियों ने चक्रमण कर स्‍कूलों में कोरोना संक्रमण से बचाव की तैयारियों का जायजा भी लिया था।

अभिभावकों का सहमति पत्र भी डिमांड किया गया –
स्‍कूलों में सैनिटाइजर, पर्याप्‍त दूरी और थर्मल स्‍कैनर अनिवार्य किया गया है, जबकि कक्षाओं में एक-दूसरे से बैठने की पर्याप्‍त दूरी संग मास्‍क लगाए रखने की भी हिदायत दी गई है। साथ ही कई स्‍कूल कालेजों में अभिभावकों का सहमति पत्र भी डिमांड किया गया है ताकि अभिभावक भी कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर अपनी जिम्‍मेदारियों से भली भांति अवगत रहें।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: