Indian News

19 नवंबर तक जारी हो सकता है इलाहाबाद विश्वविद्यालय के स्नातक का परिणाम

लखनऊ :
इलाहाबाद विश्वविद्यालय ने कोरोना काल के चलते पहली बार ऑनलाइन परीक्षा आयोजित की गयी जिसका परिणाम आना अभी बाकी है। प्रशासन पर अब स्नातक एवं परास्नातक कक्षाओं का परिणाम समय से देने का दबाव है। बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा में सफल अभ्यर्थियों की काउंसिलिंग 19 नवंबर से शुरू हो रही है, ऐसे में यदि इविवि स्नातक अंतिम वर्ष का परिणाम घोषित नहीं हुआ तो छात्र-छात्राओं को परेशानी हो सकती है। इसके चलते 19 नवंबर से पहले परिणाम जारी होने की उम्मीद है।

अंतिम सेमेस्टर के अंक 22 नवंबर तक परीक्षा नियंत्रक को उपलब्ध कराएं –

इलाहाबाद विश्वविद्यालय प्रशासन 19 नवंबर तक परिणाम जारी करने की तैयारी शुरू कर दी है। कुलपति प्रो. आरआर तिवारी ने विभिन्न विभागों के अध्यक्षों और संबद्ध कॉलेज के प्राचार्यों को पत्र लिखकर स्नातक अंतिम वर्ष की परीक्षा में सम्मिलित परीक्षार्थियों के अंक 16 नवंबर तक और परास्नातक अंतिम सेमेस्टर के अंक 22 नवंबर तक परीक्षा नियंत्रक को उपलब्ध कराने का अनुरोध किया है ताकि छात्र-छात्राओं को किसी प्रकार की परेशानी न हो। यही कारण है कि बीएड की प्रवेश परीक्षा में सफल अभ्यर्थियों से परीक्षा नियंत्रक ने अपने स्नातक अंतिम वर्ष के एडमिट कार्ड और बीएड मेरिट लिस्ट की प्रति अपने कार्यालय में 9 से 12 नवंबर तक 10 से 4 बजे तक जमा करने का निर्देश दिया है ताकि उनका परिणाम प्राथमिकता के आधार पर उपलब्ध कराया जा सके।

प्रवक्ता (पीजीटी) भर्ती के लिए 30 नवंबर तक ऑनलाइन आवेदन –

इविवि और संबद्ध कॉलेजों का परास्नातक परिणाम भी 25 नवंबर तक घोषित होने की उम्मीद है। इलाहाबाद विश्वविद्यालय प्रशासन ने 22 नवंबर तक अंक उपलब्ध कराने को कहा है। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड ने सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों में प्रवक्ता (पीजीटी) भर्ती के लिए 30 नवंबर तक ऑनलाइन आवेदन मांगे हैं। पीजी के परिणाम में देरी होने पर बड़ी संख्या में छात्र भर्ती के आवेदन से वंचित हो जाएंगे।

कॉपियों की संख्या अधिक है तो उनका मूल्यांकन समय से कराएं –

कुलपति ने हर प्रकार के सहयोग का दिलाया भरोसा स्नातक एवं परास्नातक अंतिम वर्ष का परिणाम घोषित करने के लिए कुलपति ने विभागों एवं कॉलेजों को हर तरह के सहयोग का भरोसा दिलाया है। उन्होंने अपने पत्र में लिखा है कि यदि कम्प्यूटर की कमी हो तो वे अपनी लैब खोलने को तैयार है। साथ ही विभागाध्यक्षों को छूट दी है कि यदि कॉपियों की संख्या अधिक है तो उनका मूल्यांकन समय से कराने के लिए वे जितने शिक्षकों की आवश्यकता है, उनका सहयोग ले सकते हैं। इससे संबंधित जो भी खर्च आएगा उसका भुगतान 15 दिन में कर देंगे। किसी प्रकार की दिक्कत हो तो कुलपति को मेल करके या फोन करके दूर कर सकते हैं। छात्र परिणाम से संबंधित जानकारी के लिए विवि की वेबसाइट चेक करते रहे।

अन्य और खबरें पढ़ें यहां –

बीसीईसीई ने इंजीनियरिंग कॉलेजों में नामांकन के जारी किया नोटिस, 9 नवंबर से करें रजिस्ट्रेशन

पटना :
बिहार संयुक्त प्रवेश परीक्षा प्रतियोगिता पर्षद (बीसीईसीई) ने राज्य के इंजीनियरिंग कॉलेजों में नामांकन के लिए 16 नवंबर तक रजिस्ट्रेशन कर सकते है, इससे पहले रजिस्ट्रेशन तीन नवंबर से नौ नवंबर तक निर्धारित किया गया था। विज्ञान एवं तकनीकी विभाग ने डिप्लोमा इंजीनियरिंग के छात्रों को बीई एवं बीटेक में नामांकन के अवसर दिया है। इससे रैंकिंग पर प्रभाव पड़ने के कारण दोबारा रजिस्ट्रेशन का अवसर दिया गया है।

https://bceceboard.bihar.gov.in/

पूरी खबर पढ़ें यहां (क्लिक करें)

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: