Indian News

सीसीएसयू में शिक्षा नीति के तहत जल्द तैयार हो जाएगा स्नातक का सिलेबस

लखनऊ :
नई शिक्षा नीति के तहत चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय सहित प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों के शैक्षणिक सत्र 2021-22 के लिए कामन सिलेबस बनना शुरू हो गया है। शैक्षणिक सत्र 2021-22 से नई शिक्षा नीति के तहत स्नातक की पढ़ाई शुरू हो सकती है। जिसकी तैयारियां चल रही हैं। पहले चरण में स्नातक के सिलेबस तैयार किए जा रहे हैं। दिसंबर तक यह सिलेबस पूरी तरह से तैयार हो जाएगा।

नई शिक्षा लागू होने के बाद यह कामन सिलेबस रोक दिया गया –

सिद्धार्थनगर विवि के पूर्व कुलपति प्रो. सुरेंद्र दुबे की कमेटी ने सिलेबस तैयार किया था जिसे प्रदेश स्तर पर लागू किया जाना था, लेकिन नई शिक्षा लागू होने के बाद यह कामन सिलेबस रोक दिया गया। अब कामन सिलेबस को वार्षिक की जगह सेमेस्टर सिस्टम के तहत तैयार किया जा रहा है। इसमें शासन की ओर से बनी कमेटी के सुझाव को भी जोड़ा गया है।

इस सप्ताह में इसकी बैठक होगी –

नई शिक्षा नीति के तहत सामान्य विषयों के साथ वोकेशनल, दक्षता आधारित, प्रोजेक्ट आधारित और खेलकूद से संबंधित विषय भी स्नातक स्तर पर होंगे। शासन की ओर से बनी कमेटी अलग- अलग ग्रुप बनाकर सिलेबस को तैयार कर रही है। इसमें कला, विज्ञान, वाणिज्य अलग- अलग समूह बनाया गया है। दीपावली की छुट्टी की वजह से कमेटी की बैठक नहीं हो पाई थी, अब इस सप्ताह में इसकी बैठक होगी।

छात्रों को मल्टीपल च्वाइस और एग्जिट की सुविधा –

चौधरी चरण सिंह विवि के कुलपति प्रो. एनके तनेजा का कहना है कि अगले सत्र से जो भी प्रवेश होंगे। उसमें स्नातक स्तर पर छात्रों को नई शिक्षा नीति के तहत ही प्रवेश लिया जाएगा। इसमें छात्रों को मल्टीपल च्वाइस और एग्जिट की सुविधा मिलेगी। छात्र अपनी पसंद के विषय को पढ़ सकेंगे।

शिक्षा मंत्री ने पिछले महीने इस पर एक ऑनलाइन सेशन भी रखा था –

बता दें कि नयी शिक्षा नीति लागू करने से पहले इसके अन्तर्गत आने वाले बदलावों पर बहुत ही बारीकी से काम किया जा रहा है ताकि इसके लागू होने मे किसी भी प्रकार की कोई कमी न रहें। शिक्षा मंत्री ने पिछले महीने इस पर एक ऑनलाइन सेशन भी रखा था जिसमे ट्विटर के माध्यम से उन्होंने नई शिक्षा नीति को लेकर किसी भी प्रकार के संशय का जवाब ट्वीट करके दिया।

अन्य और खबरें पढ़ें यहां –

यूजीसी की गाइडलाइंस के बाद आज खुला पंजाब केंद्रीय विश्वविद्यालय कैंपस

नई दिल्ली :
यूजीसी द्वारा जारी गाइडलाइंस के बाद कोरोना महामारी के चलते मार्च से लॉकडाउन के बाद आज 18 नवंबर, 2020 से पंजाब केंद्रीय विश्वविद्यालय का परिसर चरणबद्ध तरीके से कोविड-19 प्रोटोकाल का सख्ती से पालन करते हुए फिर से खोला गया। विश्वविद्यालय के अधिकारियों ने 5 नवंबर को जारी ‘यूजीसी दिशानिर्देशों’ को ध्यान में रखते हुए ‘घुद्दा’ स्थित सीयूपीबी मुख्य परिसर को संकाय और छात्रों के लिए फिर से खोलने के लिए यह निर्णय लिया है।

कोविड-19 निवारक दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन –

विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार, सीयूपीबी के संकाय कोविड-19 निवारक दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन करते हुए 18 नवंबर से घुद्दा स्थित सीयूपीबी मुख्य कैंपस में नियमित रूप से आएंगे। पंजाब केंद्रीय विश्वविद्यालय छात्रों के लिए चरणबद्ध तरीके से खुलेगा।

पूरी खबर पढ़ें यहां (क्लिक करें)

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: you can not copy this content !!
%d bloggers like this: