Indian News

रुहेलखंड विश्वविद्यालय मे नई शिक्षा नीति पर की बैठक, तय हुई लागू करने की रणनीति

लखनऊ :
राज्य सरकार ने केंद्र सरकार के निर्देश पर नई शिक्षा नीति-2020 जारी कर दी है। सभी विश्वविद्यालय लागू करने की रणनीति बनाएंगे और उनको इसके तहत काम करना होगा। महात्मा ज्योतिबा फुले रुहेलखंड विश्वविद्यालय ने अपने यहां इसे लागू करने की रणनीति पर चर्चा करने के लिए आज दोपहर 12 बजे से कमेटी की बैठक की गयी है। प्रशासनिक भवन स्थित समिति कक्ष में हुई बैठक की अध्यक्षता कुलपति प्रो. केपी सिंह ने की है।

विश्वविद्यालय में डायरेक्ट्रेट ऑफ रिसर्च की स्थापना कर दी गई –

रुहेलखंड विश्वविद्यालय कुलपति ने बताया कि नई शिक्षा नीति लागू होने के बाद विश्वविद्यालय ने इस दिशा में दो महीने पहले से काम शुरू कर दिया था। नीति में शोध को बढ़ाना देने की बात है। इसलिए विश्वविद्यालय में डायरेक्ट्रेट ऑफ रिसर्च की स्थापना कर दी गई है। इंडस्ट्री के साथ तालमेल बैठाने के लिए एक कमेटी बनाई गई है जिसने काम शुरू कर दिया है। इसके अलावा विश्वविद्यालय को अंतर्राष्ट्रीय स्तर का बनाने की दिशा में भी काम शुरू हो गया है। बैठक में इन्हीं सब मुद्दों पर चर्चा की गयी और कार्य योजना बनाई गयी।

यहां पढ़ें – बिहार के इंजीनियरिंग कॉलेजों में नामांकन के लिए रैंक कार्ड जारी, 28 नवंबर तक करें च्वाइस फिलिंग

कार्यक्रम में ये रहे शामिल –

बता दें कि नई शिक्षा नीति की बैठक मे विश्वविद्यालय के सभी संकायाध्यक्ष, राजकीय रजा पीजी कॉलेज रामपुर के प्राचार्य डॉ. पीके वाष्णेय, बरेली कॉलेज के प्राचार्य डॉ. अनुराग मोहन, हिन्दू कॉलेज के प्राचार्य डॉ. वीवी सिंह, रुहेलखंड विश्वविद्यालय के एलएलएम के विभागाध्यक्ष डॉ. अमित सिंह, विद्युत अभियांत्रिकी विभाग के प्रो. एके गुप्ता, क्षेत्रीय उच्च शिक्षा अधिकार बरेली डॉ. राजेश प्रकाश, खंडेलवाल कॉलेज ऑफ मैनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी बरेली के निदेशक या उनकी ओर से नामित सदस्य, इफ्फो आंवला बरेली के प्रबंध निदेशक डॉ. उदय शंकर अवस्थी, श्री राम मूर्ति स्मारक मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल बरेली के निदेशक या उनकी ओर से नामित सदस्य के अलावा बीएल एग्रो इंडस्ट्रीज परसाखेड़ा बरेली के प्रबंध निदेशक घनश्याम खंडेलवाल और बरेली के जिला कृषि अधिकारी शामिल रहे।

अन्य और खबरें पढ़ें यहां 

लखनऊ विश्वविद्यालय के स्थापना दिवस समारोह को पीएम मोदी आज ऑनलाइन करेंगे संबोधित

लखनऊ :
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लखनऊ विश्वविद्यालय की स्थापना के शताब्दी दिवस समारोह को आज ऑनलाइन माध्यम से संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री इस समारोह में आज शाम 5:30 में वीडियो कॉन्फेरेंसिंग के माध्यम से शामिल होंगे। पीएम ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी।

विश्वविद्यालय सीखने का एक प्रतिष्ठित केंद्र है –

पीएम ने अपने ट्वीट में लिखा है, “आज शाम 5:30 बजे, लखनऊ विश्वविद्यालय की स्थापना के शताब्दी दिवस समारोह को संबोधित करूंगा। विश्वविद्यालय सीखने का एक प्रतिष्ठित केंद्र है और इसके छात्रों ने कई क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है। प्रधानमंत्री ने इस लाइव प्रोग्राम में लोगों से जुड़ने की अपील भी की है।”

प्रधानमंत्री एक स्मारक डाक टिकट का करेंगे विमोचन –

बता दें कि इस संबंध में प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से पहले ही जानकारी दी गई थी। स्थापना दिवस समारोह के अवसर पर प्रधानमंत्री इंडिया पोस्ट द्वारा जारी एक स्मारक डाक टिकट का विमोचन करेंगे। इसके साथ ही, लखनऊ विश्वविद्यालय के सौ वर्ष पूरे होने पर विश्वविद्यालय के शताब्दी स्मारक सिक्के का अनावरण भी करेंगे।

पूरी खबर पढ़ें यहां (क्लिक करें)

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: