University/Central University

कुमाऊं विवि मे पीएचडी की प्रवेश के लिए 80 अंक की होगी लिखित परीक्षा, साक्षात्कार के 20 अंक

देहरादून :
कुमाऊं विश्वविद्यालय मे बुधवार को विवि प्रशासनिक भवन में कुलपति प्रो. एनके जोशी की अध्यक्षता में हुई शोध सलाहकार समिति की बैठक में शोध की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए कई फैसले लिए गए है जिसके मुताबिक, पीएचडी में प्रवेश के लिए अब लिखित परीक्षा के 80 व साक्षात्कार के 20 अंक होंगे। इससे पहले इसके प्रवेश परीक्षा के लिखित परीक्षा के 70 व साक्षात्कार के 30 अंक निर्धारित थे। अंकों मे किये गए बदलावों को अगले वर्ष से लागू किया जाएगा।

लिखित परीक्षा में सफल अभ्यर्थी ही होंगे साक्षात्कार में शामिल –

कुमाऊं विवि प्रशासनिक भवन में हुई समिति की बैठक में तय किया गया कि शोध में बेहतर काम करने वाले कुमाऊं विवि के शोधार्थीयों को सम्मानित किया जाएगा। पीएचडी व डीएससी एक विषय में एक अभ्यर्थी द्वारा एक बार ही की जा सकेगी। दूसरी बार के लिए पीजी विषय से परीक्षा उत्तीर्ण करनी होगी। प्रोजेक्ट वाले शोध निर्देशकों को फील्ड व शोध कार्य के लिए कुलपति 20 दिन का अतिरिक्त कार्यावकाश भी दे सकेंगे।

साल में एक शोध पत्र यूजीसी लिस्टेड जर्नल में प्रकाशित करना होगा –

बताते चलें कि प्रत्येक विभाग अनिवार्य रूप से वर्ष में एक बार शोध समिति की बैठक आयोजित करेगे। हर प्राध्यापक को साल में एक शोध पत्र कराना होगा प्रकाशित बैठक में ये भी तय हुआ कि अब विवि के हर प्राध्यापक को साल में एक शोध पत्र यूजीसी लिस्टेड जर्नल में प्रकाशित करना होगा। उच्च गुणवत्ता युक्त शोध के लिए शोध निर्देशकों को पेटेंट के लिए आवेदन भी करना होगा। इसके अलावा प्रत्येक वर्ष प्राध्यापकों को कम से कम एक अनुदान एजेंसी को अनुदान के लिए शोध प्रस्ताव भी जमा करना आवश्यक होगा।

केंद्रीय प्रयोगशाला निर्माण पर सहमति –

बैठक में कुमाऊं केंद्रीय प्रयोगशाला निर्माण की सैंद्धातिक सहमति भी दी गई, जहा विभिन्न विषयों के शोधार्थी आवश्यक शुल्क जमाकर अपने सैंपल का विश्लेषण करा सकेंगे। इस प्रस्ताव के लिए धनराशि रूसा और 10 लाख रुपये की धनराशि शोध खाते से दी जाएगी। आरडीसी (रिसर्च डेवलेपमेंट कमेटी) में अनुपस्थित को प्री पीएचडी कोर्स पूरा करने को एक वर्ष की छूट होगी। एक साल बाद प्री पीएचडी निरस्त मानी जाएगी। अल्मोडा विवि की स्थापना के पश्चात सभी पंजीकृत शोधार्थियों के प्री पीएचडी सेमिनार, मौखिक परीक्षा डीएसबी व भीमताल परिसर में होंगे।

अल्मोड़ा में केवल शिक्षा संकाय, विधि संकाय एवं मनोविज्ञान से संबंधित शोधार्थियों की मौखिक परीक्षा ही होगी।

अन्य और खबरें पढ़ें यहां –

एमबीबीएस और बीडीएस की सीटों पर दूसरे चरण की काउंसलिंग के नतीजे आज होंगे जारी

नई दिल्ली :
मेडिकल काउंसलिंग कमेटी (एमसीसी) आज, 27 नवंबर 2020 को नीट यूजी 2020 के माध्यम से एमबीबीएस और बीडीएस की ऑल इंडिया कोटे की सीटों के लिए दूसरे चरण की काउंसलिंग के नतीजे जारी करेगा। नीट यूजी 2020 काउंसलिंग के दूसरे चरण में सम्मिलित हुए उम्मीदवार काउंसलिंग के नतीजे जारी होने के बाद ऑफिशियल वेबसाइट, mcc.nic.in पर अपना परिणाम चेक कर पाएंगे। बता दें कि सफल होने वाले जिन उम्मीदवारों को राउंड 2 रिजल्ट के माध्यम से सीटों का आवंटन किया जाएगा, उन्हें ऑफिशियल वेबसाइट से अपना आवंटन लेटर डाउनलोड करने के बाद आवंटित कॉलेज में कल, 28 नवंबर 2020 से 8 दिसंबर 2020 तक रिपोर्ट करना होगा।

ऐसे चेक करें रिजल्ट –

– उम्मीदवारों को दूसरे चरण की नीट 2020 काउंसलिंग परिणाम देखने के लिए ऑफिशियल वेबसाइट mcc.nic.in पर विजिट करना होगा।
– इसके बाद होम पेज पर ही उपलब्ध कराये जाने वाले लिंक पर क्लिक करना होगा।
– इसके बाद नीट 2020 काउंसलिंग राउंड 2 रिजल्ट पीडीएफ फॉर्मेट में ओपेन होगा।

इस पीडीएफ फाइल में उम्मीदवार अपना रोल नंबर और रैंक सर्च कर पाएंगे।
– उम्मीदवारों को अपना आवंटन लेकर डाउनलोड करना होगा।

पूरी खबर पढ़ें यहां (क्लिक करें)…

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: