Medical College

दिसंबर के पहले सप्ताह में शुरू होगी मोतीलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज के एमबीबीएस की सभी कक्षाएं

लखनऊ :
मोतीलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज, इलाहबाद ने एमबीबीएस के छात्रों की ऑफलाइन क्लासेस शुरू करने मे निर्देश जारी कर दिए है। शासन के निर्देशानुसार, कॉलेज में एमबीबीएस द्वितीय, तृतीय व अंतिम वर्ष की कक्षा दिसंबर के पहले सप्ताह में शुरू होगी। कॉलेज प्रबंधन इसकी तैयारियों को अंतिम रूप देने में जुटा है। कोरोना संक्रमण के कारण एमबीबीएस की ऑनलाइन पढ़ाई चल रही थी। शासन ने एमबीबीएस द्वितीय, तृतीय व अंतिम वर्ष की कक्षा शुरू करने का आदेश दिया है।

शिक्षकों को शेड्यृल बनाने का निर्देश दिया गया –

कॉलेज प्राचार्य डॉ एसपी सिंह ने बताया कि कक्षा शुरू करने की तैयारी शुरू कर दी है। दिसंबर के पहले सप्ताह से कक्षा शुरू कर दी जाएगी। संबंधित शिक्षकों को तैयारी करने को कहा गया है। कोरोना नियमों व सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने को छात्रों की संख्या को बांटकर कक्षा लगाई जाएगी। इसके लिए शिक्षकों को शेड्यृल बनाने का निर्देश दिया है। संबंधित छात्र-छात्राओं को कक्षा शुरू होने व उपस्थित होने की जानकारी दे दी गई है। अभिभावकों की सहमति होनी बेहद जरूरी है। मेडिकल कॉलेज में शिक्षकों की संख्या पर्याप्त है। कक्षा व प्रैक्टिकल कराने में कोई परेशानी नहीं आने दी जाएगी। एमबीबीएस द्वितीय, तृतीय व अंतिम वर्ष में 150-150 छात्र हैं।

यहां पढ़ें – सीएचएसएल, सीपीओ, जेई, और जेएचटी परीक्षाओं के नतीजों की तिथियाँ घोषित, जारी हुआ कैलेंडर

शुरू में छात्रों की संख्या कम रही –

प्रथम वर्ष की लग रही कक्षा : प्राचार्य डॉ एसपी सिंह ने बताया कि कॉलेज में नवंबर के पहले सप्ताह से एमबीबीएस प्रथम वर्ष की कक्षा लग रही है। प्रथम वर्ष में दो सौ सीटें हैं। लगभग सभी छात्र-छात्राएं कक्षा में आ रहे हैं। कोरोना नियमों का पालन करते हुए इनकी कक्षा को हिस्सों में बांटा गया है। प्राचार्य ने बताया कि शुरू में छात्रों की संख्या कम रही, लेकिन धीरे-धीरे संख्या बढ़ती गई।

यूनानी मेडिकल कॉलेज में चल रहीं कक्षाएं –

शासन के निर्देश पर यूनानी मेडिकल कॉलेज में कक्षाएं शुरू हो गई हैं। कॉलेज में कोरोना नियमों के तहत बीयूएमएस की सभी वर्षों की कक्षाएं लगाई जा रही हैं। प्रिसिंपल डॉ अनवार कुरैशी ने बताया कि शासनादेश के बाद 23 नवंबर से सभी कक्षा के छात्र-छात्राएं कॉलेज आ रहे हैं। बीयूएमएस में प्रथम वर्ष में 60, दूसरे में 51, तीसने में 47 व अंतिम वर्ष में 32 छात्र-छात्राएं हैं। नए सत्र से प्रथम वर्ष में 60 से बढ़कर 75 सीटें कर दी जाएंगी। उन्होंने बताया कि सोशल डिस्टेंसिंग व कोरोना नियमों का पालन हर हाल में किया जा रहा है।

अन्य और खबरें पढ़ें यहां 

सीएसआईआर तथा विज्ञान भारती हैं IISF 2020 के संयुक्त आयोजक, घोषणा समारोह 3 दिसंबर को

पिलानी :
देशभर में 22 से 25 दिसंबर तक वर्चुअल रूप में आयोजित किए जा रहे भारत अंतरराष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव (IISF 2020) के दौरान इंजीनियरिंग मॉडल कॉम्पिटीशन एंड एक्सपो सीएसआईआर-केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिकी अभियांत्रिकी अनुसंधान संस्थान, पिलानी तथा विज्ञान भारती-राजस्थान के संयुक्त तत्वावधान में 23 तथा 24 दिसंबर 2020 को आयोजित किया जाएगा।

ईवेन्ट का नियंत्रण कक्ष संस्थान के जयपुर केंद्र को –

आयोजन के संबंध में जानकारी देते हुए संस्थान के निदेशक डॉ पी सी पंचारिया ने बताया कि आईआईएसएफ के छठे संस्करण की मेजबानी का दायित्व सीएसआईआर को सौंपा गया है और इस महोत्सव के दौरान सीएसआईआर की विभिन्न प्रयोगशालाओं में कुल 41 इवेंट आयोजित किए जाएंगे।

पूरी खबर पढ़ें यहां (क्लिक करें)…

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: