Indian News

शिक्षा मंत्री ने छात्रों के प्रश्नों के दिए जवाब, मंत्री ने परीक्षा के सम्बन्ध मे दी जानकारी

नई दिल्ली :
शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने आज 10 दिसम्बर को छात्रों द्वारा पूछे गए सवालों का जवाब दिया। साथ ही उन्होंने विभिन्न परीक्षाओं को लेकर भी जानकारी साझा की। शिक्षा मंत्री ने ट्वीटर के माध्यम से छात्रों से परीक्षा संबंधित प्रश्नों को ट्वीट के माध्यम से पूछने की अपील की थी।

हम इस पर विचार कर रहे हैं –

सोशल मीडिया पर लाइव इंटेरैक्शन के दौरान मंत्री ने जेईई एग्जाम के लिए कहा, “12वीं के सिलेबस में कमी किये जाने के बाद जेईई में ऐसे प्रश्नों को शामिल किया जा सकता है जिससे कम सिलेबस पढ़े स्टूडेंट्स भी हल कर पाएं।” जेईई मेन डेट को लेकर शिक्षा मंत्री ने कहा कि हम इस पर विचार कर रहे हैं।

परीक्षा के मोड को लेकर पूछ गये एक सवाल के जवाब में शिक्षा मंत्री ने कहा –

नीट परीक्षाओं को स्थगित करने को लेकर किए गए सवाल पर शिक्षा मंत्री ने कहा कि इसे टाला नहीं जा सकता है। साथ ही, नीट परीक्षा के मोड को लेकर पूछ गये एक सवाल के जवाब में शिक्षा मंत्री ने कहा, “नीट परीक्षा को ऑनलाइन कराने के विकल्प पर विचार किया जा सकता है।”

यहां पढ़ें – श्री विश्वकर्मा कौशल विवि ई ऑफिस प्रयोग करने वाला प्रदेश का प्रथम एवं राष्ट्र का तीसरा विश्वविद्यालय बना

– शिक्षा मंत्री ने इंटेरैक्शन के दौरान सीबीएसई बोर्ड एग्जाम फरवरी-मार्च को टाले जाने के लिए कहा कि हम पूरी कोशिश करेंगे की सभी स्टूडेंट्स को तैयारी का पूरा मौका मिले।

– सीबीएसई बोर्ड प्रैक्टिकल एग्जाम के लिए शिक्षा मंत्री ने कहा, “प्रैक्टिकल स्कूली स्तर पर होते हैं। यदि ऐसा लगा कि प्रैक्टिकल आयोजित नहीं हो पाएंगी तो इस पर विचार किया जाएगा।”

– सिलेबस से हटाये गये चैप्टर को लेकर हो रही छात्रोॆं को दुविधा के लिए शिक्षा मंत्री ने कहा कि सीबीएसई की वेबसाइट पर सारी जानकारी अपलोड की गयी है। शिक्षा मंत्री ने कहा कि सीबीएसई बोर्ड प्रैक्टिकल की डेट्स को जेईई मेन परीक्षा की डेट के साथ क्लैश न होने देने के निर्देश स्कूलों को दिये जाएंगे।

– सीबीएसई परीक्षा को लेकर मंत्री ने आगे कहा- “सीबीएसई बोर्ड द्वारा व्यवस्था की गयी मूल्यांकन के दौरान किसी भी स्टूडेंट्स को अनुत्तीर्ण नहीं किया जाएगा। इस प्रकार बोर्ड परीक्षा में कोई भी फेल नहीं होगा।”

‘रीड करेंगे तो लीड करेंगे’ – शिक्षा मंत्री –

शिक्षा मंत्री ने प्रधानमंत्री मोदी के बयान को दोहरात हुए कहा कि ‘रीड करेंगे तो लीड करेंगे। शिक्षा मंत्री ने कहा, “अमेरिकी आबादी से ज्यादा 33 करोड़ स्टूडेंट्स हमारे देश में है। इसलिए हमने कई ऑनलाइन कार्यक्रम शुरू किये हैं ताकि महामारी में शिक्षा जारी रह सके।”

ये रहे छात्रों के सवाल-

कब होंगी बोर्ड परीक्षाएं? क्या है प्रैक्टिल एग्जाम की डेट्स? एग्जाम मोड क्या होगा? बोर्ड परीक्षाएं स्थगित होंगी? ऑनलाइन क्लासेस में हुई अधूरी तैयारी में परीक्षा कैसे दें? नीट परीक्षा कब होगी? जेईई मेन और एडवांस के लिए एक्स्ट्रा चांस मिलेगा या नहीं? ऐसे कई प्रश्न हैं जिन्हें स्टूडेंट्स सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ समेत विभिन्न प्राधिकारिकयों से पूछते रहे हैं। स्टूडेंट्स के पास मौका था कि वे इन सवालों के जवाब सीधे शिक्षा मंत्री से मांग सकते थे। इसके लिए शिक्षा मंत्री आज, 10 दिसंबर 2020 को सुबह 10 बजे से अपने सोशल मीडिया एकाउंट्स पर लाइव इंटेरैक्शन के लिए उपलब्ध रहे। शिक्षा मंत्री देश भर के छात्रों, शिक्षकों और पैरेट्स के सवालों का लाइव जवाब दिये।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: