Indian News

हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड द्वारा 150 परीक्षा केंद्रों में कल से होगी TET परीक्षा

नई दिल्ली :
हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड द्वारा संचालित की जाने वाली अध्यापक पात्रता परीक्षा (TET) कल से आयोजित होने जा रही है। इसके लिए बोर्ड ने प्रदेश भर में 150 परीक्षा केंद्र स्थापित किए हैं। सभी परीक्षा केंद्रों के लिए केंद्र अधीक्षक, उपाधीक्षक व स्टाफ की भी डयूटियां लगा दी गई हैं।

छात्रों को सभी निर्देशों का पालन करना आवश्यक –

कोरोना महामारी को देखते हुए इससे संबंधित निर्देश भी जारी कर दिए गए है। केंद्र स्टाफ को सख्त निर्देश जारी किए गए हैं कि हर अभ्यर्थी के पास अपने हैंड सैनिटाइजर, मास्क होना अनिवार्य है। छात्रों को सभी निर्देशों का पालन करना आवश्यक है। इस बार कोविड-19 को लेकर बोर्ड इसलिए भी ज्यादा सख्त हुआ है, क्योंकि गत माह डीएलएड परीक्षा के दौरान प्रदेश के दो परीक्षार्थी कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे, जबकि ये परीक्षा केंद्र भी पहुंच गए थे।

सभी आठ विषयों की TET संचालित की जाएगी –

परीक्षा 12 दिसंबर से 15 दिसंबर तक आयोजित की जा रही है। परीक्षा दो पालियों मे आयोजित की जा रही है। परीक्षा का समय सुबह 10.00 से 12.30 और दोपहर 2.00 से सायं 4.30 बजे तक रहेगा। सभी आठ विषयों की टेट संचालित की जाएगी।
– 12 दिसंबर को सुबह के समय टीजीटी आर्टस और सायंकाल में टीजीटी मेडिकल की परीक्षा होगी।
– 13 दिसंबर को सुबह के सत्र में पंजाबी और सायं काल उर्दू विषय की अध्यापक पात्रता परीक्षा होगी।
– 14 दिसंबर को जेबीटी टेट सुबह, जबकि सायंकाल सत्र में शास्त्री टेट होगा।
– 15 दिसंबर को सुबह के समय टीजीटी नॉन मेडिकल और दूसरे सत्र में भाषा अध्यापक की परीक्षा होगी।

अभी करीब 41 हजार अभ्यर्थी TET देंगे –

रिपोर्टस के मुताबिक बता 12 दिसंबर को करीब 10 हजार अभ्यर्थी टीजीटी आर्टस और करीब 5500 मेडिकल TET देंगे। सभी आठ विषयों के लिए बोर्ड के पास लगभग 43 हजार आवेदन आए थे, जिसमें 2500 आवेदन फीस जमा न होने के चलते रद्द हुए थे। अभी करीब 41 हजार अभ्यर्थी TET देंगे। विषयवार आवेदनों की बात की जाए तो जेबीटी विषय में 8507, एलटी में 4566, पंजाबी में 153, शास्त्री विषय में 2147 आवेदन प्राप्त हुए हैं।

कोरोना से संबंधित सभी प्रोटोकॉलस का सख्ती से पालन करें –

इसके अलावा टीजीटी आर्ट्स में 16090, टीजीटी मेडिकल में 5690, टीजीटी नॉन मेडिकल में 7125 व उर्दू विषय में 39 आवेदन प्राप्त हुए हैं। छात्रों को ध्यान देना होगा कि वे कोरोना से संबंधित सभी प्रोटोकॉलस का सख्ती से पालन करें और परीक्षा से संबंधित किसी भी अपडेट्स के लिए वेबसाइट चेक कर सकते है।

अन्य और खबरें पढ़ें यहां –

तीन मेडिकल कालेजों के बीएएमएस कोर्स की नहीं हुई परीक्षा, मान्यता को लेकर हो रहें सवाल

लखनऊ :
महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ से संबद्ध तीन मेडिकल कालेजों के बीएएमएस (सत्र-2018-19) कोर्स की परीक्षा अभी तक नही हुई है। 2018- 2019 बैच छात्रों का कोर्स एक वर्ष पहले ही पूरा हो चुका है जिसके बाद मेडिकल के छात्रों को परीक्षा का इंतजार है। परीक्षा में मान्यता का पेच फंसा हुआ है। परीक्षा में हो रहे विलंब से तीनों कालेजाें के छात्रों में रोष है।

तीन कालेजों के छात्रों को परीक्षा देने की अनुमति नहीं –

हालांकि, छात्रों ने इसके लिए कालेज प्रबधंन को जिम्मेदार ठहराया है। कहा कि कोर्ट ने तीनों कालेजों को छह माह में भीतर समस्त औपचारिकता पूरी कर मान्यता लेने की शर्त पर दाखिले लेने की अनुमति दी थी। वहीं दो साल साल तक कालेज प्रबंधन मान्यता लेने के लिए कोई पहल नहीं की। वहीं हम लोगों को भी अंधेरे में रखा गया।

पूरी खबर पढ़ें यहां (क्लिक करें)

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: