University/Central University

योग से हृदय में जगाएं शांति व संतोष : डा. एसके अवस्थी

लखनऊ : उप्र राजर्षि टंडन मुक्त विश्वविद्यालय, प्रयागराज के क्षेत्रीय केंद्र लखनऊ में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर तन-मन को सशक्त बनाए योग, आओ जीवन में अपनाएं योग विषय पर ऑनलाइन व्याख्यान आयोजित किया गया। इस विषय पर उप्र आयूष सोसाइटी के डॉ एस के अवस्थी व ग्लोबल ई कैंपस के वरिष्ठ संपादक अंजनी कुमार दुबे ने बहुत ही प्रेणादायक व ज्ञानवर्धक विचार प्रस्तुत किए। डॉ एसके अवस्थी ने तन मन को शुद्ध रखने के लिए योग करने पर बल दिया। संयम के साथ जीवन पथ पर चलते हुए अंत:करण में शांति व संतोष का उन्नयन करने पर प्रकाश डाला। अंतरमुखी व बहिर्मुखी वृत्तियों पर प्रकाश डालते हुए भारतीय दर्शन में योग की महत्ता को बताया।

कुलपति प्रो सीमा सिंह,उप्र राजर्षि टंडन मुक्त विश्वविद्यालय प्रयागराज की प्रेरणा व विश्वविद्यालय के प्रबंधन विभाग के डायरेक्टर व लखनऊ क्षेत्रीय केंद्र प्रभारी प्रो ओम गुप्ता के मार्गदर्शन व निर्देशन में इस व्याख्यान का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का प्रारंभ क्षेत्रीय समंवयक डॉ नीरांजली सिह्ना ने प्रमुख वक्ताओं ,अतिथियों , अध्ययन केंद समंवयकों व शिक्षार्थियों का स्वागत करते हुए किया। योग विषय के व्याख्यान में आजमगढ़ क्षेत्रीय केंद्र के क्षेत्रीय समंवयक डॉ श्याम दत्त दुबे, आगरा क्षेत्रीय केंद्र की समंवयक डॉ रेखा सिंह, महावीर प्रसाद महिला कॉलेज की प्राचार्या डॉ विजया रानी वर्मा, अमेठी की इतिहास प्रवक्ता डॉ वंदना सिंह व डॉ अलका वर्मा उपस्थित रहीं। इसमें लखनऊ क्षेत्रीय केंद्र के अधिकांश योग शिक्षार्थी एवं योग प्रशिक्षक भी शामिल थे। कार्यालय के  संजय कुमार, अश्विनी त्रिपाठी ,सोनू व सुनील भी व्याख्यान में उपस्थित रहे। कार्यक्रम का समापन डॉ नीरांजली सिह्ना द्वारा धन्यवाद ज्ञापन से किया गया।

 

खुले स्थान पर योग करें, हो सके तो पीपल के पेड़ के नीचे
अंजनी कुमार दुबे ने कहा योग कितना भी सीखा जाए कम है। तन मन को सशक्त बनाएं जीवन में योग अपनाएं का नारा दिया। सलाह दी कि चित्त की वृत्तियों को वश में करने के लिए अष्टांग योग करें। योग शांत मन से करें और खुले स्थान में करें। हो सके तो पीपल के वृक्ष के नीचे योग करें। योग का अभ्यास ऐसे गुरु से प्राप्त करने पर बल दिया जिसमें स्वावलंबन व स्वाध्याय हो। योग को शिव शक्ति बताया और ब्राम्ही स्वरूप का ज्ञान दिया।
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: