Abroad News

विदेश से करना चाहते हैं MBBS? इन देशों में सबसे सस्ती होगी पढ़ाई

विदेशों में सबसे अच्छे एमबीबीएस में रूस, कजाकिस्तान, यूक्रेन, जॉर्जिया आदि देश शामिल हैं। इन देशों में चिकित्सा विश्वविद्यालय अंतरराष्ट्रीय पाठ्यक्रम का पालन करते हैं और भारतीय छात्रों के साथ-साथ अन्य अंतरराष्ट्रीय छात्रों के लिए विदेशों में कम लागत वाली एमबीबीएस की पेशकश करते हैं।

नई दिल्ली। मेडिकल का क्षेत्र करियर के सबसे लोकप्रिय ऑप्‍शन में से एक है। हर मां-बाप अपने जीवन में एकबार जरूर सोचता है कि उसका बेटा-बेटी डॉक्‍टर बनें, हालांकि आज के समय में यह आसान नहीं है। एमबीबीएस की डिग्री प्राप्त करना डॉक्टर बनने की यात्रा का पहला कदम है, लेकिन इस पहले कदम को उठाने की हिम्‍मत ही कोई सामान्‍य परिवार नहीं कर सकता। क्‍योंकि भारत में मेडिकल सीट प्राप्त करना इतना आसान नहीं है।

उपलब्ध सीटों की संख्या और आवेदकों की संख्या के बीच अंतर के कारण, भारत में एमबीबीएस प्रवेश के लिए यह प्रतियोगिता बढ़ रही है। वहीं प्राइवेट कॉलेज से एमबीबीएस की पढ़ाई करने में करोड़ों रुपए खर्च हो जाते हैं, इसलिए छात्र विदेश में एमबीबीएस कोर्स का विकल्प चुनते हैं, जहां पर सस्‍ती और अच्‍छी एजुकेशन मिलती है।

विदेश में एमबीबीएस की पढ़ाई क्यों

  • आमतौर पर, मेडिकल कॉलेजों में विदेश में प्रवेश पाने के लिए कोई दान शुल्क नहीं देना पड़ता है।
  • विदेशों में मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश पाने के लिए किसी भी तरह की प्रवेश परीक्षा की आवश्यकता नहीं है।
  • छात्र विदेश में सस्ती कीमत पर चिकित्सा शिक्षा प्राप्त कर सकते हैं।
  • विश्वस्तरीय अवसंरचना और सुविधाओं की उपलब्धता भी इसका प्रमुख कारण है कि छात्र विदेश में चिकित्सा अध्ययन करना चाहते हैं।
  • इन देशों में रहने की लागत कम है।
  • विदेशों में कई चिकित्सा विश्वविद्यालय शिक्षा के माध्यम के रूप में अंग्रेजी भाषा का उपयोग करते हैं। इससे छात्रों के लिए पाठ्यक्रम का अध्ययन करना आसान हो जाता है।
  • विदेश में एमबीबीएस की पढ़ाई करते समय, आपके लिए अंतर्राष्ट्रीय शिक्षण और कार्य प्रदर्शन प्राप्त करने के कई अवसर हैं। आपको विदेशों में शीर्ष चिकित्सा विश्वविद्यालयों में विभिन्न देशों, पृष्ठभूमि और जातीयता से आने वाले छात्रों के साथ बातचीत करने का मौका मिल सकता है।

एमबीबीएस प्रवेश प्रक्रिया क्या है?
विदेशों में मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश की प्रक्रिया बहुत सरल और परेशानी मुक्त है। छात्र को ऑनलाइन प्रवेश पत्र भरने और आवश्यक दस्तावेजों को ऑनलाइन या ऑफलाइन जमा करने की आवश्यकता है। एक बार जब आप दस्तावेज जमा करते हैं, तो तुरंत प्रवेश की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। आवश्यक दस्तावेज जमा करने के बाद, छात्र को संबंधित देश के शिक्षा मंत्रालय से एक निमंत्रण पत्र मिलता है। इसके बाद, आप वीजा के लिए आवेदन कर सकते हैं।

यूक्रेन
यूक्रेन वह देश है जहां बीमारियों के इलाज के लिए विश्व स्तरीय उपकरण हैं। इसमें कुछ सर्वश्रेष्ठ मेडिकल कॉलेज हैं जिनकी लागत बहुत कम है और सर्वश्रेष्ठ चिकित्सा शिक्षा प्रदान करते हैं। इसमें ऐसे विश्वविद्यालय हैं जो चिकित्सा में अपने यूजी और पीजी को पूरा करने के लिए भारतीय और अन्य अंतर्राष्ट्रीय छात्रों के लिए सस्ती हैं। यूक्रेन के लगभग सभी कॉलेजों को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया, वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन, जैसे विश्व स्तर पर मान्यता प्राप्त है। यहां पर शिक्षा प्राप्‍त करने में करीब 20 से 25 लाख रुपए लगते हैं।

यह भी पढ़ें – फ्री एजुकेशन के लिए इन देशों में अच्छा मौका, नहीं लगेगी कोई फीस

यूक्रेन में मेडिकल के प्रसिद्ध विश्वविद्यालय 

  • कीव नेशनल मेडिकल यूनिवर्सिटी
  • विनीतस नेशनल मेडिकल यूनिवर्सिटी
  • बोगोमोलेट्स नेशनल मेडिकल यूनिवर्सिटी
  • टेरनोपिल स्टेट मेडिकल यूनिवर्सिटी
  • डोनेट्स्क स्टेट मेडिकल यूनिवर्सिटी

किर्गिज़स्तान
किर्गिज़स्तान एक ऐसी जगह है, जहाँ आप 15 से 20 लाख रुपये के भीतर अपना मेडिकल कोर्स पूरा कर सकते हैं, यानी बहुत कम कीमत पर। यह चिकित्सा का अध्ययन करने के लिए सबसे सस्‍ती जगहों में गिना जाता है। विश्वविद्यालय अच्छी बुनियादी सुविधाओं और कम लागत के साथ उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षा प्रदान करते हैं। किर्गिस्तान के सभी संस्थानों को एमसीआई द्वारा मान्यता प्राप्त है।

कुछ प्रतिष्ठित संस्थान 

  • ओश राज्य चिकित्सा विश्वविद्यालय
  • जलालाबाद मेडिकल यूनिवर्सिटी
  • एशियाई चिकित्सा संस्थान
  • किर्गिज़.रूसी स्लाव विश्वविद्यालय
  • इंटरनेशनल स्कूल ऑफ मेडिसिन

रूस
यूरोपीय देश वास्तव में बहुत महंगे हैं, शैक्षिक और रहने का खर्च अधिक है। लेकिन रूस में एक अलग परिदृश्य है। अन्य यूरोपीय देशों की तुलना में शैक्षिक खर्च और रहने की लागत बहुत कम है। पेशेवर डॉक्टरों की मांग रूस में बहुत अधिक है जो समय की अवधि में आरओआई बढ़ाती है। इसलिए रूस को चुनना भारतीय छात्रों के लिए अच्छे फैसलों में से एक होगा। यहां पर आप 20 से 25 लाख रुपए में मेडिकल कर सकते हैं।

रूस में कुछचिकित्सा संस्थान 

  • साइबेरियाई राज्य चिकित्सा विश्वविद्यालय
  • रियाज़ान मेडिकल यूनिवर्सिटीए रियाज़ान
  • मोर्दोविया स्टेट यूनिवर्सिटी
  • कुबन स्टेट मेडिकल यूनिवर्सिटी
  • उत्तरी राज्य विश्वविद्यालय

फिलीपींस
यहां पर मेडिकल की पढ़ाई अमेरिकन पद्धति पर चलती है। यहां पूरी पढ़ाई को दो भागों में बांटा गया है। पहला भाग बीएस प्रोग्राम होता है जो एक साल का होता है, उसके बाद अपीयर नामक परीक्षा में अपीयर होना पड़ता है। जिसके बाद एमडी कोर्स करना होता है, जो चार साल का होता है। फिलीपींस में मेडिकल शिक्षा पूरे पांच साल का खर्च भारतीय रुपए में लगभग 14 लाख से 15 लाख तक पड़ता है।

फिलीपींस केअच्‍छे मेडिकल संस्‍थान 

  • अम्मा स्कूल ऑफ मेडिसिन
  • लिसेयुम नॉर्थवेस्टर्न यूनिवर्सिटी
  • यूनिवर्सिटी ऑफ परपेचुअल हेल्प
  • बिकल क्रिश्चियन कॉलेज ऑफ मेडिसिन
  • डावाओ मेडिकल स्कूल फाउंडेशन
  • कगयन स्टेट यूनिवर्सिटी

जर्मनी
जर्मनी में एमबीबीएस की यूनिवर्सिटी पूरी दुनिया की टॉप मेडिकल यूनिवर्सिटी में शामिल हैं। ये यूनिवर्सिटी बेहतरीन शिक्षा, आधुनिक उपकरण और गतिशील वातावरण के लिए जानी जाती हैं। इन्हें विश्व स्वास्थ्य संगठन, मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया और यूनाइटेड नेशनल ऑर्गनाइजेशन जैसे विभिन्न संगठनों द्वारा मान्यता दी गई है। यहां पर छात्र 25 से 30 लाख में अपनी एजुकेशन पूरी कर सकते हैं।

जर्मनी की टॉपसंस्‍थान 

  • हैम्बर्ग यूनिवर्सिटी
  • लुबेक यूनिवर्सिटी
  • फ्री यूनिवर्सिटी आफ बर्लिन
  • हीडलबर्ग यूनिवर्सिटी
  • वुर्ज़बर्ग यूनिवर्सिटी
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: you can not copy this content !!
%d bloggers like this: