NewsSchool Corner

आज से खुले उत्तर प्रदेश के माध्यमिक विद्यालय तथा इंटर कॉलेज, जानिए विद्यालय निरीक्षण के प्रमुख बिंदु

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में माध्यमिक स्कूल, इंटर कॉलेज आज यानी 16 अगस्त से खुल गए हैं। इस दौरान विद्यालयों में पर्याप्त इंतजाम हैं या नहीं इसके लिए विद्यालय निरीक्षण के लिए अधिकारियों की एक टीम को तैयात किया गया है।

माध्यमिक शिक्षा विभाग के अनुसार स्कूल केवल सोमवार से शुक्रवार यानी पांच दिन ही खुलेंगे। शनिवार और रविवार को स्कूल बंद रहेंगे। स्कूल जिस दिन खुलेंगे उस दिन प्रदेश भर के स्कूलों के निरीक्षण के लिए 60 अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है। इस संबंध में माध्यमिक शिक्षा विभाग की अपर मुख्य सचिव आराधना शुक्ला ने आदेश जारी कर दिया है। 16 अगस्त से कक्षा 9 से 12 तक के स्कूल खोले जा रहे हैं।

निरीक्षण के लिए जिलेवार अधिकारियों की लगी ड्यूटी:

विशेष सचिव शम्भु कुमार, नेहा प्रकाश, उदय भानु त्रिपाठी को बाराबंकी, फतेहपुर, मिर्जापुर की जिम्मेदारी सौंपी गई है। इसी तरह शिक्षा निदेशक विनय पाण्डेय को लखनऊ, अपर निदेशक मंजू शर्मा को सीतापुर, महेन्द्र देव को मेरठ, अंजना गोयल को प्रतापगढ़, यूपी बोर्ड सचिव दिव्यकांत शुक्ला को प्रयागराज, जेडी बरेली अजय कुमार को बदायूं व शाजहांपुर, जेडी वाराणसी प्रदी कुमार को चंदौली व जौनपुर, डीडी विकास श्रीवास्तव को वाराणसी की जिम्मेदारी दी गई है। डायट प्राचार्य व उप प्राचार्य, सहायक निदेशक, वरिष्ठ विशेषज्ञ समेत 60 अधिकारियों को निरीक्षण करना होगा। सभी को अलग-अलग ब्लॉक या नगर या ग्रामीण क्षेत्र के कम से कम एक और न्यूनतम 10 स्कूलों की व्यवस्था का निरीक्षण करना होगा। निरीक्षण की रिपोर्ट शाम तक निदेशालय भेजनी होगी। जिन स्कूलों में कमियां पाई जाएंगी उनका निराकरण शिक्षा निदेशक व सचिव यूपी बोर्ड द्वारा दूर करवाई जाएगी।

यह भी पढ़ें – एलान: स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी बोले- देश के सैनिक स्कूलों में अब बेटियां भी पढ़ेंगी

विद्यालय निरीक्षण के प्रमुख बिन्दु:

  • दो पालियों में सुबह 8 से 12 और 12.30 से 4.30 बजे तक चलेंगे स्कूल, छुट्टी एक साथ न की जाए।
  • एक पाली में 50 फीसदी बच्चे, सैनिटाइजर, थर्मल स्कैनिंग, पल्स ऑक्सीमीटर, प्राथमिक उपचार की व्यवस्था हो।
  • संक्रमण के किसी भी लक्षण की दशा में विद्यार्थियों या अध्यापकों को वापस घर भेज दिया जाए।

बिहार में भी आज से खुले प्राथमिक स्कूल-

बिहार सरकार ने कक्षा 1 से 8वीं तक के प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यायों को 16 अगस्त से खोलने का फैसला लिया था। सोमवार से सूबे के 80 हजार विद्यालय खोले गए हैं। विद्यालय प्रबंधन ने भी स्कूलों के संचालन को लेकर तैयारी पहले ही पूरी कर ली थी। स्कूल परिसर, बेंच-डेस्क आदि सेनेटाइज किये गये हैं। हालांकि राज्य के बाढ़ग्रस्त इलाकों के बच्चों को अभी इंतजार करना पड़ेगा। शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने कहा कि बाढ़ प्रभावित इलाकों में फिलहाल प्रारंभिक स्कूलों नहीं खोला जाएगा।

इससे पहले 12 जुलाई से 10वीं के ऊपर के स्कूल और कॉलेज खोले गए थे और 7 अगस्त से 9वीं-दसवीं के स्कूल और कोचिंग संस्थान खुल चुके हैं।

इसके अलावा राजस्थान व मध्यप्रदेश में भी एक सितंबर से स्कूल खोले जा सकते हैं। मध्यप्रदेश में उच्च शिक्षा संस्थान पहले ही खुल चुके हैं।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: