Indian News

शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान कल NEP 2020 की प्रमुख पहलों का करेंगे शुभारंभ, पढ़ें डिटेल

शिक्षा मंत्रालय की ओर से जानकारी दी गई कि एनईपी 2020 की एक वर्ष की उपलब्धियों पर एक पुस्तिका और एनसीईआरटी का एक वैकल्पिक शैक्षणिक कैलेंडर भी लॉन्च किया जाएगा। एनईपी प्रमुख पहलों का शुभारंभ कल सुबह 10:15 बजे लाइव प्रसारित किया जाएगा।

नई दिल्ली। केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान कल 24 अगस्त 2021 को राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP 2020) की प्रमुख पहलों का शुभारंभ करेंगे। प्रमुख पहल के हिस्से के रूप में, शिक्षा मंत्रालय की ओर से जानकारी दी गई कि एनईपी 2020 की एक वर्ष की उपलब्धियों पर एक पुस्तिका और एनसीईआरटी का एक वैकल्पिक शैक्षणिक कैलेंडर भी लॉन्च किया जाएगा। एनईपी प्रमुख पहलों का शुभारंभ कल सुबह 10:15 बजे लाइव प्रसारित किया जाएगा। यह कार्यक्रम YouTube और शिक्षा मंत्रालय के ट्विटर हैंडल पर भी लाइव होगा। इस संबंध में शिक्षा मंत्रालय के ऑफिशियल ट्वीटर हैंडल से ट्वीट करके जानकारी दी गई है।

यह भी पढ़ें – कल होनी है यूपी पीईटी परीक्षा, UPSSSC ने 11 जिलों के इन परीक्षा केंद्रों में किया बदलाव, नया एडमिट कार्ड जारी

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एनसीईआरटी के वैकल्पिक शैक्षणिक कैलेंडर 2021-22 में सिलेबस या टेक्सटबुक से लिए गए लर्निंग आउटकम, विषयों और अध्यायों के संदर्भ में दिलचस्प और चुनौतीपूर्ण गतिविधियों की सप्ताहवार योजना शामिल होगी। लॉन्च का सीधा प्रसारण कल 24 अगस्त को सुबह 10:15 बजे किया जाएगा। समझ और संख्यात्मकता के साथ पढ़ने में प्रवीणता के लिए राष्ट्रीय पहल (NIPUN) भारत यह सुनिश्चित करना चाहता है कि देश में प्रत्येक बच्चा अनिवार्य रूप से कक्षा 3 के अंत तक, 2026-27 तक मूलभूत साक्षरता और संख्यात्मकता प्राप्त कर ले। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, शिक्षा मंत्री कल राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान (NIOS) में दीक्षा (DIKSHA) और वर्चुअल स्कूल पर संसाधनों का भी उद्घाटन करेंगे।

विभाग ने इसे लचीला और सहयोगी बनाने के लिए कार्यान्वयन भागीदारों, विशेषज्ञों के साथ गहन परामर्श की एक श्रृंखला के माध्यम से, निपुन भारत के तहत एक व्यापक दिशानिर्देश विकसित किया है। इसमें राष्ट्रीय, राज्य, जिला, ब्लॉक और स्कूल स्तरों पर एक कार्यान्वयन तंत्र को प्रभावी ढंग से स्थापित करने के लिए मूलभूत साक्षरता और संख्यात्मकता के साथ-साथ प्रशासनिक पहलुओं के प्रमुख तकनीकी पहलुओं को शामिल किया गया है। इससे पहले, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जुलाई माह में देश भर में शिक्षा क्षेत्र में नीति निर्माताओं, छात्रों, शिक्षकों को संबोधित किया था। राष्ट्रीय शिक्षा नीति के एक वर्ष पूरा होने के अवसर पर एक वर्चुअल कार्यक्रम आयोजित किया गया था।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: