News

कल से देश के कई राज्यों में खुलेंगे स्कूल, राज्‍यों ने जारी किए दिशा-निर्देश

महामारी कोविड-19 की शुरुआत के साथ देश भर में पठन-पाठन की प्रक्रिया के लिए ऑनलाइन व्यवस्था की गई थी जो अब तक जारी है। इस बीच संक्रमण में कमी को देखते हुए कई राज्यों ने स्कूलों में ऑफलाइन पढ़ाई शुरू कर है और कई 1 सितंबर से करने वाले हैं।

नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी को देखते हुए अब देश के अनेकों राज्यों में कल यानि 1 सितंबर से स्कूलों को खोलने का फैसला लिया गया है। कारगिल के डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट ने सोमवार स्कूलों को खोलने के लिए आदेश जारी कर दिए हैं। दिल्ली में भी 1 सितंबर से स्कूलों को खोलने का फैसला लिया गया है। वहीं उत्तर प्रदेश में स्कूलों को खोला जा चुका है और 1 सितंबर से कालेजों को भी खोलने का फैसला लिया गया है।

डाक्टर त्रेहन ने जताई है आपत्ति

हालांकि मशहूर चिकित्सक नरेश त्रेहन ने बच्चों के लिए स्कूलों के खोले जाने पर ऐतराज जताया है। उन्होंने कहा कि बच्चों के लिए जल्द ही कोरोना वैक्सीन आ जाएगी उसके बाद ही इन्हें स्कूल बुलाया जाना चाहिए। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा है कि राज्य सरकार की योजना के तहत 5 सितंबर तक सभी टीचिंग और नान टीचिंग कर्मचारियों का कोरोना वैक्सीनेशन किया जाना है और इसके बाद ही राज्य के स्कूलों को फिर से खोलने पर विचार किया जाएगा।

यह भी पढ़ें – बच्चे ध्यान दें! अगर आपको है श्रीरामचरित मानस का ज्ञान तो इस प्रतियोगिता से जीत सकते हैं इनाम

दिल्ली सरकार ने जारी की SOP

दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (DDMA) ने राजधानी के स्कूलों को खोलने को लेकर दिशा-निर्देश जारी किये हैं। दिल्ली सरकार ने इसके लिए SOP जारी किया है। पहले चरण में 1 सितंबर से 9वीं से 12वीं कक्षा के छात्रों के लिए स्कूल खोले जाएंगे। वहीं कक्षा 6 से 8 तक के लिए 8 सितंबर से स्कूल खोल दिए जाएंगे। इसके साथ ही इमरजेंसी हालात में यहां के स्कूलों और कालेजों में क्वारंटीन सेंटरों की व्यवस्था भी करने के आदेश दिए गए हैं।

DDMA के कुछ अन्य महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश

  • शिक्षण संस्थानों को किसी भी कक्षा में एक बार में अधिकतम 50 फीसदी छात्र-छात्राओं को ही बुलाने की अनुमति होगी।
  • इसके लिए संस्थान शिफ्ट में स्टूडेंट्स को बुला सकते हैं और दो शिफ्ट के बीच कम से कम एक घंटे का अंतराल होना चाहिए।
  • स्टूडेंट्स को फूड आइटम्स या पानी, किताबें, स्टेशनरी सामान या किसी अन्य चीज को क्लासमेट या किसी अन्य के साथ शेयर करने से बचना चाहिए।
  • स्कूल प्रमुखों को यह भी सुनिश्चित करना होगा कि स्कूल में आने वाले सभी टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ का टीकाकरण हो। यदि वे नहीं हैं, तो उन्हें प्राथमिकता के आधार पर इसे पूरा कराना होगा।

तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री के कार्यालय से शनिवार को एक बयान में कहा गया है कि 5 सितंबर तक स्कूलों और कॉलेजों के सभी कर्मचारियों को टीके की कम से कम एक खुराक लगाई जाएगी।

उत्तर प्रदेश आज से खुलेंगे उच्च शिक्षा संस्थान तथा प्राथमिक विद्यालय 

उत्तर प्रदेश में 24 अगस्त से कक्षा 6 से 8वीं तक के स्कूलों को खोल दिया गया है। तथा अब कल यानी 1 सितम्बर से कक्षा 1 से 5 तक सभी स्कूल खुलेंगे। इसके साथ ही कल से प्रदेश की सभी उच्च शिक्षा संस्थान खोलने के भी आदेश है मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आदेश दिया है की स्कूलों में पढ़ने वाले सभी शिक्षकों को वैक्सीन लगी होनी चाहिए। तथा उच्च शिक्षण संस्थानों में भी सभी शिक्षक, स्टाफ सहित आने वाले विद्यार्थियों को भी वैक्सीनेशन होना अनिवार्य है।

यह भी पढ़ें – गेट परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन आज से शुरू, जानें कब होगी परीक्षा

कर्नाटक और मिजोरम के स्कूल

कर्नाटक में भी कोरोना संक्रमण दर में कमी को देखते हुए कक्षा 9 से 12 तक के स्‍कूलों को खोल दिया गया है। कर्नाटक में 23 अगस्त से कक्षा नवीं से 12वीं तक के स्कूलों को खोल दिया गया है। मिजोरम में कोरोना वायरस संक्रमण से मुक्त क्षेत्रों में 300 से अधिक स्कूलों को नए शैक्षणिक सत्र 2021-2022 के लिए फिर से खोले जाने की अनुमति दी गई है। स्कूल शिक्षा विभाग के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार मंगलवार सुबह देशभर से 30,248 नए मामले सामने आए और 205 संक्रमितों की मौत हो गई। वहीं केरल में 19,622 नए संक्रमित मिले और 132 मौतें दर्ज हुई हैं।

1 सितंबर से असम, मध्यप्रदेश तथा राजिस्थान में खुलेंगे कालेज एवं स्कूल

असम में कालेजों को 1 सितंबर से खोला जाना है लेकिन अभी स्कूलों के खोलने को लेकर किसी तरह का फैसला नहीं लिया गया है। मध्यप्रदेश में छठी कक्षा से 12वीं तक के स्कूलों को 1 सितंबर से खोलने की योजना है इसके लिए पैरेंट्स से विचार मांगा गया है। उत्तर प्रदेश में 1 से 5वीं कक्षा तक के स्कूलों को 1 तारीख से खोल दिया जाएगा। वहीं राजस्थान में 1 सितंबर से केवल 9वीं से 12वीं तक के स्कूलों को खोलने की योजना है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: