University/Central University

दिल्ली यूनिवर्सिटी की एंट्रेंस परीक्षा की तारीखें जारी, यहां जानें डिटेल

दिल्ली यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट का शेड्यूल ऑफिशियल वेबसाइट nta.ac.in पर जारी कर दिया गया है. एडमिट कार्ड भी जल्द ही जारी कर दिया जाएगा.

नई दिल्ली। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने DUET 2021 परीक्षा की तारीखें जारी कर दी हैं। यूजी, पीजी और एम.फिल/पीएचडी पाठ्यक्रमों के लिए दिल्ली विश्वविद्यालय एंट्रेंस परीक्षा 26 सितंबर, 27, 28, 29, 30 और 1 अक्टूबर, 2021 को आयोजित की जाएगी। उम्मीदवार आधिकारिक नोटिस एनटीए की आधिकारिक साइट nta.ac.in पर देख सकते हैं। परीक्षा केवल कंप्यूटर आधारित टेस्ट मोड में आयोजित की जाएगी। एंट्रेंस परीक्षा तीन स्लॉट में आयोजित की जाएगी- पहला स्लॉट सुबह 8 बजे से 10 बजे तक, दूसरा स्लॉट दोपहर 12.30 बजे से दोपहर 2.30 बजे तक, और तीसरा स्लॉट शाम 5 बजे से शाम 7 बजे तक होगा।

यूजी कोर्सेज के लिए परीक्षा की अवधि 3 घंटे होगी। प्रश्न पत्र में बहुविकल्पीय प्रश्न, 100 प्रश्न और प्रत्येक सही प्रतिक्रिया के लिए 4 अंक शामिल हैं। गलत प्रतिक्रियाओं के लिए नेगेटिव मार्किंग होगी। पेपर केवल अंग्रेजी भाषा में सेट किया जाएगा। पीजी कोर्सेज के लिए, प्रश्नों की संख्या 50/100 होगी और एम.फिल/पीएचडी के लिए प्रश्नों की संख्या 50 होगी। इसके अलावा, अन्य सभी विवरण यूजी कोर्सेज के समान ही रहेंगे।

यह भी पढ़ें – सीबीएसई बोर्ड ने 10वीं और 12वीं की टर्म 1 परीक्षाओं के सैंपल क्वेश्चन पेपर किये जारी

DUET 2021 के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया 26 जुलाई को शुरू हुई थी और 21 अगस्त, 2021 को समाप्त हुई थी। एजेंसी द्वारा एंट्रेंस परीक्षा के लिए समय पर एडमिट कार्ड जारी किया जाएगा। उम्मीदवार nta.ac.in या du.ac.in पर जाकर अपना एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकेंगे।

दिल्ली यूनिवर्सिटी 2022-23 से लागू करेगी नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति

दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) ने मंगलवार को अपनी कार्यकारी परिषद की बैठक में वर्ष 2022-23 सत्र से राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) और चार वर्षीय स्नातक कार्यक्रम के कार्यान्वयन को मंजूरी दी। एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी। रजिस्ट्रार विकास गुप्ता ने कहा कि शैक्षणिक सत्र 2022-23 से एनईपी को लागू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि तीन सदस्यों ने कार्यान्वयन को लेकर असहमति जताई। एनईपी और चार वर्षीय स्नातक कार्यक्रम के कार्यान्वयन को अकादमिक मामलों की स्थायी समिति और अकादमिक परिषद द्वारा पिछले सप्ताह अनुमोदित किया गया था।

बैठक में बहुस्तरीय प्रवेश/निकासी योजना (एमईईएस) को भी मंजूरी प्रदान की गई जिसमें छात्र विभिन्न चरणों में कार्यक्रम में प्रवेश या बाहर निकल सकते हैं। साथ ही एकेडमिक बैंक ऑफ क्रेडिट (एबीसी) को भी मंजूरी दी गई। विश्वविद्यालय की सर्वोच्च निर्णायक संस्था कार्यकारी परिषद ने एमईईएस और एबीसी को अपनी मंजूरी प्रदान की। वहीं, दिल्ली विश्वविद्यालय शिक्षक संघ (डूटा) ने मंगलवार को एनईपी लागू करने के खिलाफ एक ऑनलाइन विरोध प्रदर्शन किया।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: