IIT/EngineeringIndian News

टीसीएस में निकली अब तक की सबसे बड़ी बहाली, भारतीय महिला इंजीनियर व कंप्यूटर साइंस के ग्रेजुएट की भी हो रही भर्ती

टाटा समूह की सबसे बड़ी कंपनियों में शुमार टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) ने अबतक का सबसे बड़ी वैकेंसी निकाली है। बहाली में महिलाओं को प्राथमिकता दी जाएगी। भारतीय महिला इंजीयिर व कंप्यूटर साइंस के ग्रेजुएट के लिए यह सुनहरा मौका है। पूरी जानकारी यहां है।

जमशेदपुर। आईटी सेक्टर की अग्रणी कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) ने उन महिलाओं के लिए बंपर बहाली निकाली है, जो नौकरी की तलाश में हैं। यह अवसर उन महिलाओं के लिए है, जिनके पास बेसिक स्किल है और अपने स्किल को सुधार कर आगे बढ़ना चाहती हैं।

टीसीएस ने भारतीय महिलाओं को ऐसा अवसर उपलब्ध कराया है, जहां आप आसानी से रोजगार पा सकती हैं। टीसीएस ने अपनी वेबसाट पर लिखा है कि इनोवेशन और कलेक्टिव नॉलेज के माध्यम से अधिक से अधिक भविष्य का निर्माण करना हमारा विश्वास है। इसलिए हम आपके अनुभव, आपके विचारों और हमारी वर्तमान और भविष्य की पीढ़ी के लिए एक अभिनव मार्ग बनाने की आपकी क्षमता का सम्मान करते हैं।

यह भी पढ़ें – यूपी बोर्ड: खुद परीक्षा पैटर्न तय कर सकेंगे स्कूल, सहमति पर ऑनलाइन-ऑफलाइन होंगे एग्‍जाम

न्यूनतम योग्यता

  • आवेदकों के पास कम से कम दो से पांच साल का प्रासंगिक अनुभव होना चाहिए।
  • उम्मीदवारों के पास पूर्णकालिक स्नातक या स्नातकोत्तर डिग्री होनी चाहिए।
  • उम्मीदवारों को स्नातक, बीटेक, एमटेक, एमसीए, कंप्यूटर साइंस या इंजीनियरिंग की डिग्री हो।

इन क्षेत्रों में मिल सकती नौकरी

  • फाइनांस : 3 पद
  • बिजनेस प्रोसेस सर्विसेज : 81 पद
  • कंसल्टेंसी : 68 पद
  • आईटी इंफ्रास्ट्रक्चर सर्विसेज : 95 पद
  • टेक्नोलाजी : 612 पद

ऐसे करें आवेदन

इच्छुक उम्मीदवार अपने उपयुक्त कौशल या स्किल के अनुसार टीसीएस की आधिकारिक वेबसाइट पर आवेदन कर सकती हैं। योग्य उम्मीदवार अपने रजिस्टर्ड ईमेल आईडी पर साक्षात्कार या इंटरव्यू का विवरण प्राप्त कर सकेंगी। नवीनतम अपडेट के लिए आवेदकों को नियमित रूप से अपने मेल की जांच करने की सलाह दी जाती है।

टाटा समूह महिलाओं की हितैषी

यहां यह बताना लाजिमी है कि टाटा समूह महिलाओं की सबसे बड़ी हितैषी है। टाटा स्टील व टाटा मोटर्स समेत तमाम कंपनियों में काफी महिलाएं कार्यरत हैं। छोटे से छोटे पद से लेकर उच्चाधिकारी तक में महिलाओं को स्थान मिला है। यही नहीं, टाटा स्टील में रेजा या सफाईकर्मी का काम करने वाली महिलाओं को प्रशिक्षित करके क्रेन व भारी मशीन का चालक तक बनाया गया है। ऐसी मिसाल किसी दूसरी कंपनी में देखने या सुनने को नहीं मिलता।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: