NewsSchool Corner

सोनीपत में बड़ा हादसा: बच्चों की क्लास के दौरान स्कूल की गिरी छत, मलबे में दबे 25 बच्चे

कैंपस में एग्जाम देने के बाद अंदर बैग लेने गए थे छात्र, ऊपर चल रहा था रिपेयरिंग का काम; तेज धमाके के बाद मलबे के नीचे दबे

सोनीपत। हरियाणा के सोनीपत जिले से एक दिल दहला देने वाले बड़े हादसे की खबर सामने आई है। जहां एक स्कूल की छत गिर गई और 25 छात्र-छात्राएं मलबे के नीचे आकर दब गए। चीख पुकार सुनकर गांव वाले मौके पर पहुंचे और मलबे में दबे को निकालने में जुट गए। इस हादसे के बाद इलाके में हड़कंप मच गया।

दरअसल, यह दर्दनाक हादसा सोनीपत जिले के गन्नौर तहसील के बाय गांव में जीवानंद मॉडल पब्लिक स्कूल में हुआ। जहां तीसरी, चौथी कक्षा के छात्र-छात्राओं की टीचर क्लास ले रहे थे। तो वहीं कुछ मजदूर छत पर मिट्टी डाल रहे थे, लेकिन इसी बीच छत भरभराकर गिर गई। जिसमें बच्चे- अध्यापक और मजदूरों को मिलाकर करीब 35 मलबे के नीचे आ गए।

यह भी पढ़ें – AMU एंट्रेंस परीक्षा की आंसर-की जारी, यहां डायरेक्ट लिंक से करें डाउनलोड

हादसे की जानकारी लगते ही गांव के लोग और पुलिस मौके पर पहुंची। इसके बाद रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया। पुलिस टीम ने स्थानीय लोगों के साथ मिलकर मलबे में दबे बच्चों और मजदूरों को निकाला गया। आनन-फानन में उनको  प्राइवेट अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। जिसमें से 7 लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है।

पुलिस जांच में सामने आया है कि स्कूल की छत कच्ची और तेज बारिश के चलते जर्जर हो चुकी थी। स्कूल प्रशासन इसलिए बच्चों की सुरक्षा को देखते हुए छत पर मिट्टी डलवा रहा था। लेकिन जैसी ही मजदूरों ने मिट्टी डाली तो छत गिर गई और यह हादसा हो गया।

इस भयानक हादसे में गनीमत रही अब तक किसी की जान नहीं गई है। लेकिन मासूम बच्चों को गंभीर चोट आई है, साथ ही कई के तो सिर भी फूट गया। कुछ छात्रों के सिर पर कई टांके लगे हैं। जिला प्रशासन ने डॉक्टरों को बच्चों का सही से इलाज करने के निर्देश दिए हैं। हालांकि डॉक्टरों ने मासूमों की हालत खतरे से बाहर बताई है।

स्कूल प्रशासन ने इस हादसे के बाद स्कूल की छुट्टी कर दी है। वहीं घटना की जानकारी मिलते ही बच्चों के परिजन अस्पताल पहुंचे और अपने बच्चों की खैर-खबर ली।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: