Civil Services AcademyIndian News

शिक्षा मंत्रालय शुरू कर रहा ‘वीरगाथा परियोजना’, वीरों के जीवन पर बनाना होगा प्रोजेक्ट, मिलेगा अवार्ड

मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया, ''वीरगाथा परियोजना का आयोजन स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग कर रहा है और यह 21 अक्टूबर से 20 नवंबर तक चलेगी.''

नई दिल्ली। शिक्षा मंत्रालय 21 अक्टूबर से ‘‘वीरगाथा परियोजना’’ शुरू कर रहा है। देश के वीरों के जीवन एवं बलिदान की कहानियों के जरिये छात्रों में बहादुरी की भावना को प्रगाढ़ बनाने के लिये रक्षा मंत्रालय के प्रस्ताव पर यह परियोजना चालू की जा रही है। जिसके 25 विजेताओं को 2022 के गणतंत्र दिवस पर पुरस्कृत किया जायेगा। मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया, ‘‘ वीरगाथा परियोजना का आयोजन स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग कर रहा है और यह 21 अक्टूबर से 20 नवंबर तक चलेगी। इसमें तीसरी कक्षा से 12वीं कक्षा के छात्र हिस्सा ले सकेंगे।’’ इस परियोजना में केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) से संबद्ध स्कूलों के अलावा सभी राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों के स्कूलों के छात्र हिस्सा ले सकेंगे।

वीरगाथा परियोजना के प्रस्ताव के अनुसार, इसमें हिस्सा लेने वाले छात्रों को बहादुरी के लिये पदक एवं सम्मान प्राप्त करने वाले वीरों के जीवन एवं बलिदान पर प्रोजेक्ट तैयार करना होगा। यह कविता, लेख, चित्रकारी, वीडियो सहित मल्टी मीडिया प्रस्तुति आदि के रूप में हो सकते हैं। इसमें कहा गया है कि 25 चुनी गई प्रविष्टियों को रक्षा मंत्रालय द्वारा 10 हजार रूपये का नकद पुरस्कार प्रदान किया जायेगा तथा इसके विजेताओं को गणतंत्र दिवस के अवसर पर दिल्ली आमंत्रित किया जायेगा।

यह भी पढ़ें – जारी हुई NEET UG परीक्षा की आंसर-की, इस डायरेक्ट लिंक से करें डाउनलोड 

सीबीएसई के एक अधिकारी ने बताया कि इस संबंध में सीबीएसई से संबद्ध स्कूलों के लिये वीर गाथा परियोजना को सीबीएसई के आईटी प्लेटफार्म पर शुरू किया जा सकता है। राज्यों के स्कूलों के लिये इसे माईजीओवी प्लेटफार्म पर शुरू किया जायेगा। इसमें 25 विजेताओं का चयन सीबीएसई के वीरगाथा पोर्टल और माईजीओवी प्लेटफार्म पर प्राप्त प्रविष्टियों से किया जायेगा। स्कूल स्तर पर गतिविधियों को 21 अक्टूबर से 20 नवंबर तक पूरा किया जायेगा। स्कूल बोर्ड के वीर गाथा परियोजना पोर्टल पर 1 नवंबर 2021 से 30 नवंबर 2021 तक जमा कर सकते हैं।

वीरगाथा परियोजना में तीसरी से पांचवी कक्षा के छात्रों को वीरता पुरस्कार प्राप्त करने वाली शख्सियत पर 150 शब्दों में कविता या निबंध लिखना अथवा पेंटिंग बनानी होगी। छठी से आठवीं कक्षा के छात्रों को 300 शब्दों में कविता या निबंध लिखना अथवा पेंटिंग बनानी होगी. वे वीडियो प्रस्तुति भी तैयार कर सकते हैं। 9वीं एवं 10वीं कक्षा के छात्र बहादुरी के लिये सम्मान प्राप्त करने वाले किसी वीर के उपर 750 शब्दों में कविता या निबंध लिख सकते हैं या पेंटिंग बना सकते हैं। इस वर्ग के छात्र वीडियो प्रस्तुति भी तैयार कर सकते हैं।

इसी प्रकार से 11वीं एवं 12वीं कक्षा के छात्र 1000 शब्दों में कविता या निबंध लिख सकते हैं या पेंटिंग बना सकते हैं. इस वर्ग के छात्र वीडियो प्रस्तुति भी तैयार कर सकते हैं।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: you can not copy this content !!
%d bloggers like this: