Sports

आस्ट्रेलिया पहली बार बना टी20 वर्ल्ड चैंपियन, न्यूजीलैंड को फाइनल में हरा कर बनाया रिकॉर्ड

टी20 विश्व कप फाइनल में आस्ट्रेलिया का मुकाबला दुबई में न्यूजीलैंड से हुआ। पहले बल्लेबाजी करते हुए कीवी टीम ने 172 रन का स्कोर खड़ा किया। आस्ट्रेलिया ने 18.5 ओवर में 2 विकेट इस टारगेट को हासिल कर ट्राफी अपने नाम की।

दुबई। आईसीसी टी20 विश्व कप के फाइनल में रविवार 14 नवंबर को आस्ट्रेलिया का मुकाबला न्यूजीलैंड से दुबई में हुआ। टॉस कंगारू कप्तान आरोन फिंच ने जीता और पहले गेंदबाजी चुनी। न्यूजीलैंड ने कप्तान केन विलियमसन की 85 रन की पारी के दम पर 20 ओवर में 4 विकेट पर 172 रन का स्कोर खड़ा किया। लक्ष्य का पीछा करने उतरी आस्ट्रेलिया के लिए डेविड वार्नर ने हाफ सेंचुरी लगाई तो वहीं मिचेल मार्श ने 77 रन की नाबाद पारी खेल टीम को 18.5 ओवर में 2 विकेट गंवाकर जीत तक पहुंचाया। यह पहली बार है जब आस्ट्रेलिया ने टी20 विश्व कप खिताब जीता।

फिंच की कप्तानी में कंगारू टीम ने पहली बार टी20 वर्ल्ड कप खिताब जीतने का गौरव हासिल किया और ये इस टीम का आठवां आईसीसी खिताब भी रहा। मिचेल मार्श को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया जबकि डेविड वार्नर को प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट के खिताब से नवाजा गया। डेविड वार्नर ने इस टूर्नामेंट में कुल 289 रन बनाए और सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में दूसरे नंबर पर रहे तो वहीं वो आस्ट्रेलिया की तरफ से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी रहे।

वार्नर-मार्श का अर्धशतक, आस्ट्रेलिया बना चैंपियन 

लक्ष्य का पीछा करने उतरी आस्ट्रेलिया की टीम को पहला झटका कप्तान आरोन फिंच के रूप में लगा। महज 5 रन बनाकर ट्रेंट बोल्ट की गेंद पर डैरिल मिचेल को कैच दे बैठे। डेविड वार्नर ने 38 गेंदों पर 3 छक्के व 4 चौकों की मदद से 53 रन की पारी खेली और बोल्ट की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए।

यह भी पढ़ें – पूर्व कोच शास्त्री का बड़ा खुलासा टी20 के बाद अब वनडे की भी कप्तानी छोड़ देंगे विराट कोहली

मार्श ने धमाकेदार पारी खेलते हुए 31 गेंद पर 3 चौका और 4 छक्का जमाते हुए अर्धशतक पूरा किया। इसी के साथ उन्होंने टूर्नामेंट के फाइनल में सबसे तेज हाफ सेंचुरी का रिकार्ड भी अपने नाम कर लिया। 50 गेंद पर 77 रन की पारी खेल मार्श ने टीम को जीत तक पहुंचाया। 18 गेंद पर ग्लेन मैक्सवेल 28 रन बनाकर नाबाद लौटे।

न्यूजीलैंड पहली पारी, कप्तान केन का अर्धशतक

डेरिल मिचेल ने मार्टिन गप्टिल के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 28 रन की साझेदारी की, लेकिन इसके बाद हेजलवुड ने मिचेल को 11 रन पर आउट कर इस पार्टनरशिप को ब्रेक कर दिया और अपनी टीम को पहली सफलता दिलाई। मार्टिन गप्टिल ने 35 गेंदों पर सामना करते हुए 28 रन बनाए और एडम जंपा की गेंद पर उनका कैच स्टोइनिस ने पकड़ा। कप्तान केन ने 32 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया।

टीम का तीसरा झटका ग्लेन फिलिप के रूप में लगा जब जोस हेजलवुड ने उनको 18 रन पर ग्लेन मैक्सवेल के हाथों कैच करवाया। इसी ओवर में जमकर बल्लेबाजी कर रहे कप्तान केन 10 चौके और 3 छक्के की मदद से 85 रन पर स्टीव स्मिथ को अपना कैच दे बैठे। नीशन 13 और साइफर्ट 8 रन बनाकर नाबाद रहे। आस्ट्रेलिया की तरफ से एडम जंपा ने एक जबकि जोश हेजलवुड ने तीन विकेट लिए।

न्यूजीलैंड की प्लेइंग इलेवन में एक बदलाव

न्यूजीलैंड ने फाइनल मैच के लिए अपनी प्लेइंग इलेवन में एक बदलाव किया। चोटिल होकर वर्ल्ड कप से बाहर होने वाले डेवोन कोन्वे की जगह टीम में टिम साइफर्ट को शामिल किया गया। वहीं आस्ट्रेलिया की टीम ने अपनी अंतिम एकादश में कोई बदलाव नहीं किया।

आस्ट्रेलिया की प्लेइंग इलेवन

आरोन फिंच (कप्तान), डेविड वार्नर, मिचेल मार्श, स्टीव स्मिथ, ग्लेन मैक्सवेल, मार्कस स्टोइनिस, मैथ्यू वेड (विकेटकीपर), पैट कमिंस, मिचेल स्टार्क, एडम जंपा, जोश हेजलवुड।

न्यूज़ीलैंड की प्लेइंग इलेवन

मार्टिन गप्टिल, डेरिल मिचेल, केन विलियमसन (कप्तान), ग्लेन फिलिप्स, टिम साइफर्ट (विकेटकीपर), जेम्स नीशम, मिचेल सैंटनर, एडम मिल्ने, टिम साउथी, ईश सोढ़ी, ट्रेंट बोल्ट।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: you can not copy this content !!
%d bloggers like this: