Sports

पहला T20 जीतने के बाद आज भारत के पास सीरीज में कब्ज़ा करने का मौका

भारत ने जयपुर में पहले टी20 मुकाबले में न्यूजीलैंड को 5 विकेट से हराकर टी20 वर्ल्ड कप 2021 में मिली हार का बदला ले लिया था और अब टीम इंडिया के पास दूसरा मैच जीतकर सीरीज पर कब्जा करने का मौका है।

रांची। विश्व टेस्ट चैंपियनशिप और टी-20 विश्व कप में न्यूजीलैंड ने भारत को हराकर भारतीय क्रिकेट प्रेमियों का दिल तोड़ दिया था। हर खेल प्रेमी की तमन्ना है कि भारतीय टीम सीरीज जीतकर न्यूजीलैंड से इस हार का बदला ले। तो मौका भी है और अनुकूल समय भी। पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी के शहर में भारत के नए कप्तान रोहित शर्मा जब शुक्रवार को टी-20 सीरीज के दूसरे मैच में यहां उतरेंगे तो उनकी टीम न्यूजीलैंड को हराकर सीरीज की जीत का तिलक लगाना चाहेगी। यह जीत खेल प्रेमियों के जख्मों पर भी मरहम का काम करेगी।

जेएससीए स्टेडियम की सेंट्रल पिच पर भरपूर रन हैं, मगर ओस बड़ा फैक्टर है। अधिकतम 24 और न्यूनतम 14 डिग्री सेल्सियस वाले मौसम में रांची में खूब ओस गिर रही है। ऐसे में जो भी टीम टॉस जीतेगी वह पहले गेंदबाजी करना चाहेगी। तो हर खेल प्रेमी की ख्वाहिश है कि रोहित टॉस जीतें, मैच जीतें और सीरीज अपने नाम कर लें। जयपुर में तीन मैचों की सीरीज का पहला मैच भारत अपने नाम कर भी चुका है।

मैदान में रोहित, ड्रेसिंग रूम से द्रविड़ व बाहर धोनी : 

रांची के जेएससीए स्टेडियम में होने वाले मुकाबले में भारत की जीत के लिए तीन फैक्टर काम करेंगे। मैदान में जहां रोहित शर्मा टीम का नेतृत्व करेंगे वहीं ड्रेसिंग रूम में ‘द वाल’ के नाम से मशहूर मुख्य कोच राहुल द्रविड़ टीम की रणनीति को अमली जामा पहनाते मिलेंगे। वहीं, धोनी भी अपने घरेलू स्टेडियम में बैठकर खिलाडि़यों का उत्साह बढ़ाते नजर आएंगे। 39 हजार क्षमता वाला जेएससीए स्टेडियम के फुल हाउस रहने की उम्मीद है।

 यह भी पढ़ें – एचपी टीईटी परीक्षा 2021: पंजाबी, उर्दू परीक्षा के लिए जारी किये गए एडमिट कार्ड

सपाट पिच रन बनाना होगा आसान : 

मैच सेंटर विकेट पर होगा और यह पूरी तरह बल्लेबाजी के अनुकूल होगा। पिच क्यूरेटर सीबी सिंह ने बताया कि यह बड़े स्कोर वाला मैच होगा। 160 से ऊपर रन बनना लगभग तय है। लेकिन दूसरी पारी में बल्लेबाजी करने वाली टीम आसानी से यह लक्ष्य हासिल कर सकती है। गेंदबाजों के लिए इस पिच पर कुछ विशेष मदद मिलने की उम्मीद नहीं है। ओस के कारण दूसरी पारी में गेंदबाजी करनी भी थोड़ी मुश्किल होगी। भारत ने अब तक यहां दो मुकाबले खेले हैं, दोनों में उसे जीत मिली है। 2016 में श्रीलंका और 2017 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ मुकाबला हुआ था।

सिराज का खेलना मुश्किल :

जयपुर टी-20 में न्यूजीलैंड की पारी के अंतिम ओवर में मिशेल सेंटनर के शॉट पर भारतीय तेज गेंदबाज मुहम्मद सिराज को हाथ में चोट लगी थी और उनका खेलना संदिग्ध है। इसके अलावा कप्तान रोहित शर्मा व मुख्य कोच राहुल द्रविड़ इस मैच के लिए कोई और छेड़छाड़ शायद ही करें। हालांकि टीम के दूसरे विकेटकीपर बल्लेबाज इशान किशन का यह घरेलू मैदान है, लेकिन टीम प्रबंधन टीम में सामंजस्य से छेड़छाड़ करने से बचना चाहेगा। अगर इशान किशन को मौका दिया जाता है तो धोनी के बाद वह झारखंड के दूसरे क्रिकेटर होंगे जो घरेलू मैदान पर मैच खेलेंगे। हालांकि टीम सूत्रों के अनुसार रांची में भी उन्हें बाहर रहना पड़ सकता है। अश्विन पर एक बार फिर टीम इंडिया की निगाहें होंगी, जिनका रिकार्ड यहां शानदार है।

सूर्यकुमार, रिषभ पहली बार यहां खेलेंगे :

जेएससीए स्टेडियम में टीम इंडिया की टीम जब उतरेगी तो उनमें कई ऐसे खिलाड़ी होंगे जो पहली बार यहां अपना जलवा दिखाएंगे। सूर्यकुमार यादव, रिषभ पंत, श्रेयस अय्यर, वेंकटेश अय्यर, मुहम्मद सिराज, दीपक चाहर, अक्षर पटेल पहली बार इस स्टेडियम में खेलते नजर आएंगे।

न्यूजीलैंड को खल रही विलियमसन की कमी : 

न्यूजीलैंड की टीम को पहले टी-20 मैच में अपने नियमित कप्तान केन विलियमसन की कमी खली। विलियमसन ने टेस्ट मैच के लिए अपने आप को इस सीरीज से बाहर कर लिया है। पिछले मैच में न्यूजीलैंड की कप्तानी कर रहे साउथी ने अंतिम ओवर डेरिल मिशेल से करवाया जो अच्छा नहीं कर पाए। कम अनुभवी मिशेल के सामने भारत को अंतिम ओवर में 10 रन चाहिए थे जो उसने आसानी से हासिल कर लिए।

टीमें-

भारत : रोहित शर्मा (कप्तान), केएल राहुल, रुतुराज गायकवाड़, श्रेयस अय्यर, सूर्यकुमार यादव, रिषभ पंत, इशान किशन, वेंकटेश अय्यर, युजवेंद्रा सिंह चहल, आर अश्विन, अक्षर पटेल, आवेश खान, भुवनेश्वर कुमार, दीपक चाहर, हर्षल पटेल, मुहम्मद सिराज।

न्यूजीलैंड : टिम साउथी (कप्तान), टाड एस्टल, ट्रेंट बोल्ट, मार्क चैपमैन, लाकी फग्र्यूसन, मार्टिन गुप्टिल, एडम मिल्ने, डेरिल मिशेल, जेम्स नीशाम, ग्लेन फिलिप्स, मिशेल सेंटनर, टिम सीफर्ट और ईश सोढ़ी।

नंबर गेम-

– 2 टी-20 मुकाबले खेले हैं भारत ने रांची में, दोनो में टीम को जीत मिली है।

– 14/3 सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन है भारतीय गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन का जिन्होंने श्रीलंका के खिलाफ यह कमाल किया था।

– 196/6 उच्चतम स्कोर है इस मैदान पर, भारतीय टीम ने यह स्कोर श्रीलंका के खिलाफ 2016 में बनाया था।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: you can not copy this content !!
%d bloggers like this: