Indian NewsNewsSchool Corner

SCERT में हुई राज्य स्तरीय शिक्षक योग प्रतियोगिता, निदेशक बोले, विद्यालयों में बनाएं योग का वातावरण

लखनऊ : शिक्षक एवं छात्र योग को जीवन का अभिन्न अंग बना सकें, इस लिए योग संबंधी प्रशिक्षण ,प्रतियोगिता एवं अन्य गतिविधियों का आयोजन राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (SCERT) दारा किया जाता है ।इस वर्ष राज्य स्तरीय योग प्रतियोगिता का आयोजन शिक्षकों के लिए किया गया। प्रतियोगिता की थीम है ‘योग से समृद्ध जीवन की ओर’। तीन दिवसीय आयोजन 17 मई से शुरू हुआ था। 20 मई तक किया गया। एससीईआरटी उत्तर प्रदेश ( SCERT) के निदेशक डा. सर्वेंद्र विक्रम बहादुर सिंह ने विद्यालयों को योग केंद्र जैसा वातावरण देने के लिए लिए कहा। उन्होंने योग का अभ्यास करने के साथ ही साथ योग में निहित दर्शन का अभिप्राय समझाया। योग को एक साधना के रूप में सीखने हेतु शिक्षकों एवं प्रतिभागियों को अभिप्रेरित किया गया। प्राथमिक विद्यालय को योग के केंद्र के रूप में उपयोग में लाने तथा छात्रों के साथ ही साथ अभिभावकों को भी योग से जोड़ने का प्रयास करने हेतु शिक्षकों को सुझाव दिया।

सुश्री मीनाक्षी राय , प्रवक्ता (शोध), एस सी ई आर टी, उत्तर प्रदेश ने पूरे योग कार्यक्रम के समन्वयक के रूप में योगाभ्यास प्रतियोगिता में विशेष भूमिका निभाते हुए योग साधकों को प्रतियोगिता से पूर्व एवं प्रतियोगिता के मध्य योगाभ्यास में सावधानी, नियम का ध्यान एवं सहजता बनाए रखने के लिए कहीं ।

अजय कुमार सिंह,संयुक्त निदेशक ( एस एस ए) , एस सी ई आर टी ने योग साधकों के लिए विभिन्न पुरस्कारों की घोषणा की। कार्यक्रम का समापन सभी गणमान्य अतिथियों एवं निर्णायक मंडल के योगाचार्य प्रशांत शुक्ल संस्थापक/ अध्यक्ष प्रयाग आरोग्य केंद्र , अंजनी कुमार दुबे योग विशेषज्ञ, योग काउंसलर राजर्षि टंडन मुक्त विश्वविद्यालय, क्षेत्रीय केंद्र लखनऊ और डॉ नंद लाल यादव योग विशेषज्ञ बलरामपुर चिकित्सालय, लखनऊ तथा प्रतिभागियों का आभार प्रकट करके किया गया।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: you can not copy this content !!
%d bloggers like this: