Uncategorized

नीट पीजी काउंसलिंग राउंड 1 का रिजल्ट हुआ जारी, यहाँ करें चेक

नीट पीजी 2021 काउंसलिंग के राउंड 1 का रिजल्ट मेडिकल काउंसलिंग कमेटी (MCC) की आधिकारिक वेबसाइट mcc.nic. in पर जारी किया गया है

नई दिल्ली। नीट पीजी 2021 एडमिशन के लिए काउंसलिंग के पहले राउंड का रिजल्ट जारी हो गया है। रिजल्ट मेडिकल काउंसलिंग कमेटी (MCC) की आधिकारिक वेबसाइट mcc.nic. in पर जारी किया गया है। NEET पीजी कोर्स में एडमिशन के लिए जिन उम्मीदवारों ने रजिस्ट्रेशन किया है उनके लिए राउंड 1 का रिजल्ट जारी किया गया है। नीट पीजी परीक्षा 11 सितंबर, 2021 को हुई थी। उससे पहले जनवरी और अप्रैल में दो बार परीक्षा कार्यक्रम में बदलाव किया गया था। इस काउंसलिंग रिजल्ट के बाद, उन्हें एडमिशन प्रक्रिया के साथ आगे बढ़ना होगा। रिजल्ट के बाद अभ्यर्थी 23 जनवरी से 28 जनवरी 2022 तक एडमिशन के लिए अप्लाई कर सकेंगे।

NEET-PG 2021 के लिए मिले कॉलेज में एडमिशन सुनिश्चित करने के लिए उम्मीदवारों को दस्तावेज सत्यापन और ट्यूशन फीस का भुगतान करना होगा। दूसरे राउंड की काउंसलिंग 3 फरवरी 2022 से शुरू कर दी जाएगी, इसके तहत DNB कोर्सेस में एडमिशन ले सकेंगे। जबकि राउंड-3 24 से 28 फरवरी के बीच आयोजित किया जाएगा।

यह भी पढ़ें – गेट परीक्षा के लिए आईआईटी खड़गपुर ने जारी किया नोटिस, स्थगित हो सकती हैं परीक्षाएं

ऐसे चेक करें काउंसलिंग का रिजल्ट

  • रिजल्ट चेक करने के लिए सबसे पहले MCC की ऑफिशियल वेबसाइट mcc.nic.in पर जाएं।
  • होम पेज पर ‘NEET PG Counseling 2021’ लिंक पर क्लिक करें।
  • जरूरी क्रेडेंशियल की मदद से लॉग इन करें और सबमिट पर क्लिक करें।
  • आपका सीट अलॉटमेंट रिजल्ट स्क्रीन पर खुल जाएगा।
  • इसे चेक करें और आगे के लिए लिए डाउनलोड करके प्रिंटआउट अपने पास रखें।

काउंसलिंग रजिस्ट्रेशन

नीट-पीजी 2021 काउंसलिंग के पहले राउंड के लिए रजिस्ट्रेशन 12 जनवरी, 2022 को शुरू हुआ था। NEET PG काउंसलिंग एमडी / एमएस / डिप्लोमा / पीजी डीएनबी कोर्सेज में प्रवेश के लिए आयोजित की जाती है। काउंसलिंग 2021 के परिणाम का इंतजार लगभग 2 लाख उम्मीदवारों को था।

ये भी पढ़ें : SEBI Recruitment 2022: सेबी में असिस्टेंट मैनेजर समेत कई पदों पर आवेदन की आखिरी तारीख कल, यहां करें अप्लाई

NEET PG में आरक्षण के नियम

नीट पीजी 2021 काउंसलिंग में एससी को 15 फीसदी सीट्स, एसटी के लिए 7.5 फीसदी, ओबीसी (एनसीएल) के लिए 27 फीसदी (सेंट्रल ओबीसी लिस्ट के अनुसार), ईडब्ल्यूएस के लिए 10 फीसदी आरक्षण, दिव्यांग वर्ग के लिए 5 फीसदी हॉरिजंटल रिजर्वेशन होगा। अंतर यह है कि पहले ओबीसी और ईडब्ल्यूएस आरक्षण सिर्फ सेंट्रल यूनिवर्सिटीज़ में थे, लेकिन इस बार इन्हें स्टेट सीट्स पर भी लागू किया जा रहा है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: