ब्रिटेन के इंपीरियल कॉलेज की कोरोना वैक्सीन का दूसरा ट्रायल शुरू

Author

Global User

Shringesh Kumar Dixit

Date :

लंदन। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के बाद अब ब्रिटेन के इंपीरियल कॉलेज ऑफ लंदन द्वारा तैयार कोरोना वैक्सीन कोवासी1 (सीओवीएसी1) का दूसरे चरण का परीक्षण मनुष्यों पर शुरू हो गया है। ब्रिटेन की सरकार ने यूनिवर्सिटी को वैक्सीन के लिए 350 करोड़ रुपये से अधिक का बजट आवंटित किया है। जानकारी के अनुसार पहले चरण में वैक्सीन का 90 लोगों पर अध्ययन किया जा चुका है जिसमें सकारात्मक और सुरक्षित परिणाम मिले हैं।

अब दूसरे चरण का ट्रायल 200 लोगों पर होगा। वायरस के जेनेटिक मैटेरियल से तैयार इस वैक्सीन को मनुष्य के शरीर में लगाया जाएगा। इसके बाद वायरस के बाहरी हिस्सा जिसे स्पाइक प्रोटीन कहते हैं वो शरीर को इम्युन सिस्टम सक्रिय करने के लिए निर्देशित करेगा और वायरस खत्म हो जाएगा।

यह भी पढ़ें –  हार्वर्ड और MIT के बाद जॉन्स हॉपकिंस यूनिवर्सिटी भी ट्रंप प्रशासन के खिलाफ पहुंचा कोर्ट

छह अस्पतालों में किया जाएगा परीक्षण इंपीरियल कॉलेज ऑफ लंदन की वैक्सीन के दूसरे चरण का परीक्षण छह स्थानों पर होगा। इसमें 18 से 75 वर्ष के 200 लोग शामिल होंगे। ट्रायल को लीड कर रही डॉ. कैटरीना पोलॉक का कहना है कि पहले चरण के परिणाम बेहतर आने के बाद अब 200 लोगों पर वैक्सीन का ट्रायल किया जाएगा। इसी तरह प्रो. रॉबिन शैटॉक का कहना है कि पहले चरण में जो परिणाम सामने आया है उससे हमारी उम्मीदें बढ़ी हैं।